देश बड़ी खबर

महाराष्ट्र: राज्यपाल ने बीजेपी को दिया सरकार बनाने का न्यौता, शिवसेना नहीं करेगी समर्थन

मुंबई। महाराष्ट्र में सबसे बड़ी पार्टी होने के कारण राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भारतीय जनता पार्टी को राज्य में सरकार बनाने का न्यौता दिया है, साथ ही 11 नवंबर यानी सोमवार रात आठ बजे बहुमत साबित करने का समय दिया है।

288 सदस्यों वाली महाराष्ट्र विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के पास 105 विधायक हैं और उसे बहुमत के लिए 145 विधायकों की तादाद चाहिए। बहुमत से कम आंकड़ा होने के बावजूद बीजेपी सरकार बनाने के लिए तैयार है। ऐसे में उसे बहुमत साबित करने के लिए शिवसेना, कांग्रेस या एनसीपी से समर्थन लेना पड़ेगा।

वहीँ दूसरी तरफ राज्यपाल द्वारा बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता दिए जाने पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हम पहले से ही कह रहे थे कि बीजेपी राज्य में सबसे बड़ी पार्टी है, उसे सरकार बनानी चाहिए।

राउत ने कहा कि शिवसेना सरकार में शामिल नहीं होगी और न ही इसका समर्थन करेगी।उन्होंने कहा कि शिवसेना सरकार बनाने की जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार है।

कांग्रेस और एनसीपी के समर्थन से राज्य में सरकार बनाने का इशारा देते हुए संजय राउत ने कहा कि कांग्रेस राज्य की दुश्मन नहीं है। सभी पार्टियों की कुछ मुद्दों पर अलग राय हो सकती है। उन्होंने कहा कि हमें नहीं पता कि भाजपा अभी तक इंतजार क्यों कर रही है, जबकि कम सीटों में उन्होंने अन्य राज्य में सरकार बनाई है।

राउत ने कहा, ‘सबसे बड़े एकल दल को बुलाया जाना था। हमें समझ नहीं आता कि यदि भाजपा को बहुमत का भरोसा था तो उसने (परिणाम घोषित होने के) 24 घंटे बाद ही दावा क्यों नहीं किया।’

संजय राउत ने रविवार को कहा कि यदि महाराष्ट्र में कोई और सरकार गठित नहीं कर पाता है तो उनकी पार्टी अपनी अगली रणनीतिक की घोषणा करेगी। उन्होंने कहा कि राज्यपाल के पहले कदम पर तस्वीर साफ हो जाने दीजिए । यदि कोई और सरकार गठित नहीं कर पाता है तो शिवसेना अपनी रणनीति घोषित करेगी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें