दुनिया बड़ी खबर

नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार, मिल सकती है ज़मानत!

लंदन। करोडो रुपये के पीएनबी घोटाले के आरोपी नीरव मोदी को आज लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया है लेकिन अभी उन्हें भारत लाये जाने की संभावनाएं कम ही हैं। बुधवार को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश किया गया।

एजेंसी रिपोर्ट के मुताबिक नीरव मोदी मामले में कोर्ट ने सुनवाई की अगली तारीख 29 मार्च तय की है। इसी अदालत ने उसके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। कोर्ट में पेशी के दौरान नीरव जमानत की अर्जी दाखिल करेगा।

सोमवार को ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। पुलिस उसे बुधवार यानी आज लंदन कोर्ट में पेश करेगी। पीएनबी घोटाले में भारतीय जांच एजेंसियों को पिछले काफी समय से नीरव मोदी की तलाश थी।

वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने भारत के प्रवर्तन निदेशालय की ओर से प्रत्यर्पण की अर्जी दाखिल करने के जवाब में यह अरेस्ट वॉरंट जारी किया था। इसके बाद से ही कहा जा रहा था कि नीरव मोदी को कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है।

एक एजेंसी रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि नीरव मोदी की गिरफ्तारी के बाद भारत सरकार ब्रिटेन से प्रत्‍यपर्ण का प्रयास करेगी और अब भारत से सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय की एक टीम लंदन के लिए रवाना होगी। इस बीच नीरव मोदी मामले को लेकर सीबीआई और ईडी की टीम लगातार ब्रिटेन अथॉरिटी और लंदन में मौजूद भारतीय हाई कमीशन के संपर्क में है।

प्रत्‍यपर्ण को लेकर बीते दिनों विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि हम इस मामले में कार्यवाही कर रहे हैं। लंदन में वह दिख गया, इसका यह मतलब नहीं है कि हम उसको तुरंत भारत ले आएंगे। इसके लिए एक प्रक्रिया होती है, जो हम कर रहे हैं।

विदेश मंत्रालय ने कहा था कि हमने पिछले साल अगस्त में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण का अनुरोध किया था। हम अच्छी तरह से जानते हैं कि वह ब्रिटेन में है, अन्यथा हम यह अनुरोध नहीं करते। हमने ईडी और सीबीआई से मिली जानकारी के आधार पर प्रत्यर्पण के लिए अनुरोध किया है, अभी ब्रिटेन की ओर से जवाब आना बाकी है।

कौन है नीरव मोदी:

नीरव मोदी पर मेहुल चौकसी के साथ मिलकर 13700 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने का आरोप है। इस मामले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय जांच कर रहे हैं। दोनों के खिलाफ मुंबई की विशेष अदालत में भी मामला चल रहा है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
Support us to keep Lokbharat Live, Give a small Contribution of Rs.100 to Support Fearless & Fair Journalism
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें