बड़ी खबर सोशल

एयरस्ट्राइक पर पीएम मोदी द्वारा दिए इस बयान का सोशल मीडिया पर बन रहा मज़ाक

नई दिल्ली। बालाकोट एयर स्ट्राइक को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में पीएम मोदी एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए पीएम मोदी ने जो कुछ कहा उसे लेकर सोशल मीडिया पर जमकर मज़ाक बन रहा है।

दरअसल पीएम नरेंद्र मोदी ने न्यूज़ नेशन चैनल से बातचीत में कहा कि “एयर स्ट्राइक के दिन मौसम ठीक नहीं था. उस दिन विशेषज्ञों का मानना था कि स्ट्राइक दूसरे दिन की जाए लेकिन मैंने उन्हें सलाह दी कि वास्तव में बादल हमारी मदद करेंगे और हमारे लड़ाकू विमान रडार की नजरों में नहीं आएंगे।”

जानकारों की माने तो पीएम मोदी ने जो कुछ कहा वह तार्किक रूप से गलत है। रडार की तकनीक बादलो को भेदने की ताकत रखती है और काफी दूरी से दुश्मन के आने का अलर्ट दे देती है।

पीएम नरेंद्र मोदी का यह वीडियो ट्विटर पर जमकर रीट्वीट हो रहा है और लोग अलग अलग प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। पीएम मोदी द्वारा रडार को लेकर कही गयी बात लोगों के गले नहीं उतर रही।

ये भी पढ़ें:  शिवसेना का सरकार पर वार: इतनी ताकत चीन सीमा पर दिखाते तो चीनी सैनिक लद्दाख में नहीं घुसते

आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी का यह इंटरव्यू रीट्वीट करते हुए लिखा कि ‘सर सर प्रधानमंत्री आप तो गजब के एक्सपर्ट हैं। सर आपसे से अनुरोध है कि अपने नाम से चौकीदार हटा दीजिए और एयरचीफ मार्शल और प्रधान…क्या टॉनिक पीते हैं आप…कि आपकी बातों में रोजगार, अर्थव्यवस्था, औद्योगिक विकास और कृषि संकट के अलावा हर बात का फार्मूला होता है, जारी रखें मित्रों.’ इसके बाद गुजरात बीजेपी ने अपना ट्वीट डीलिट कर दिया।

गौरतलब है कि एयरस्ट्राइक से जुड़े एक इंटरव्यू का कुछ अंश बीजेपी गुजरात ने ट्विटर पर साझा किया था लेकिन जब यूजर्स ने इसका मज़ाक उड़ाना शुरू किया तो बीजेपी गुजरात के ट्विटर हैंडलर से यह ट्वीट डिलीट कर दिया गया।

 

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें