दुनिया बड़ी खबर

अमेरिका ने 5वीं बार किया बगदादी को मार गिराने का दावा, रूस ने जताया संदेह

नई दिल्ली। अमेरिका ने एक बार फिर कुख्यात आतंकवादी और आईएसआईएस का सरगना अबू बकर अल बगदादी को मार गिराने का दावा किया है। इस बार अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

ट्रंप ने कहा कि इस्लामिक स्टेट का सरगना अल बगदादी यूएस स्पेशल ऑपरेशन फोर्सेज की कार्रवाई में मारा गया है। हालाँकि अमेरिका ऐसा दावा पांचवी बार कर रहा है इससे पहले अमेरिका 06 सितंबर 2014, 27 अप्रैल 2015, 12 अक्टूबर 2015 और 09 जून 2016 को भी इस्लामिक स्टेट के सरगना अल बगदादी को मारने का दावा कर चूका है।

अल बगदादी के मारे जाने का एलान करते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि यूएस स्पेशल ऑपरेशन फोर्सेज के दो घंटे तक चले ऑपरेशन में बगदादी मारा गया।

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि अमेरिकी सेना के कुत्ते बगदादी के पीछे दौड़ने लगे तो वह एक सुरंग में घुस गया। ट्रंप ने यह भी कहा कि मौत करीब आते देख बगदादी खूब रोया और चिल्लाया। उसे अमेरिकी फौज का खौफ सता रहा था।

उन्होंने बताया कि जब अमेरिकी सेना के कुत्ते बगदादी के बहुत नजदीक पहुंच गए तब उसने विस्फोटकों से भरा जैकेट पहनकर खुद को उड़ा लिया। इस घमाके के दौरान सुरंग धंस गई और बगदादी अपने तीन बच्चों के साथ मारा गया।

इस दौरान 11 बच्चों को वहां से सुरक्षित निकाल लिया गया। अमेरिकी सेना ने उसके मृत शरीर को मलबे से निकालकर डीएनए टेस्ट किया, तब इसकी पुष्टि हो सकी कि बगदादी वास्तव में मारा गया है।

वहीँ अमेरिकी राष्ट्रपति के दावे पर रूस ने संदेह ज़ाहिर किया है। रूसी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता इगोर कोनाशेन्कोव ने एक बयान में कहा, ‘रक्षा मंत्रालय के पास इदलिब में अमेरिकी सेना की कार्रवाई के बारे में विश्वसनीय जानकारी नहीं है जिसमें बगदादी के मारे जाने की बात कही जा रही है।’

गौरतलब है कि एक ब्रिटिश पत्रकार का गला काटने का वीडियो जारी कर दुनिया भर में खौफ कायम करने वाला बगदादी दुनिया के सबसे खूंखार और हिंसक संगठन आईएसआईएस का संस्थापक और सरगना था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें