worldcup 2019: इंग्लैंड ने जीता विश्वकप, सुपर ओवर से हुआ फैसला

नई दिल्ली। विश्वकप 2019 के फाइनल मुकाबले में मैच उस समय बेहद रोमांचक हो गया जब न्यूजीलैंड के 241 रनो के जबाव में खेलने उतरी इंग्लैंड 241 रन बनाकर आउट हो गयी और मैच टाई हो गया। इसके बाद फैसले के लिए खेले गए सुपर ओवर में इंग्लॅण्ड ने 15 रन बनाये। इनमे बेन स्टोक्स ने तीन गैंदो में 08 रन और जोस बटलर ने तीन गैंदो में सात रनो का योगदान दिया। अब जीत के लिए न्यूजीलैंड को एक ओवर में 16 रन बनाने थे।

लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची न्यूजीलैंड की टीम ने साँसें थाम देने वाले फ़ाइनल मैच में सुपर ओवर में न्यूजीलैंड ने भी 15 रन बना दिए लेकिन लेकिन मुकाबले में सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाने की वजह से इंग्लैंड को वर्ल्ड कप 2019 का विजेता घोषित कर दिया। बता दें कि इंग्लैंड ने पहली बार वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया है।

इससे पहले न्यूजीलैंड ने 50 ओवर में इंग्लैंड के सामने 241 रनो का लक्ष्य रखा था। न्यूजीलैंड के 241 रनो के जबाव में इंग्लैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही। जेसन रॉय (17) पहली ही गेंद पर मिले जीवनदान को भुनाने में नाकामयाब रहे। छठे ओवर में मैट हेनरी ने निपटा दिया। यहां से कीवी गेंदबाजों ने चढ़ाई शुरू कर दी। एक-एक रन के लिए संघर्ष कर रहे इंग्लिश बल्लेबाज दबाव के चलते बिखरते चले गए। 17वें ओवर में जो रूट (30 गेंदों में 7 रन), 20वें ओवर में जॉनी बेयरस्टो (55 गेंदों में 36 रन), 24वें ओवर में कप्तान इयोन मॉर्गन (22 गेंदों में 9 रन) भी चलते बने।

इंग्‍लैंड की जीत की उम्‍मीदें अब पूरी तरह स्‍टोक्‍स और बटलर की जोड़ी पर आ टिकी थीं। टीम के 100 रन 27.3 ओवर में पूरे हुए। 30 ओवर में इंग्‍लैंड का स्‍कोर चार विकेट खोकर 115 रन था और शेष 20 ओवर में टीम को 127 रन की जरूरत थी।

इन दोनों बल्‍लेबाजों ने सेंसेबल बैटिंग करते हुए जोखिम भरे शॉट लगाने से परहेज किया और लगातार सिंगल-डबल लेकर स्‍कोर को गतिमान रखा. जैसे-जैसे इंग्‍लैंड का स्‍कोर आगे बढ़ रहा था, लॉर्ड्स पर मौजूद फैंस की उम्‍मीदें बढ़ती जा रही थीं।

दोनों बल्‍लेबाज अर्धशतकीय साझेदारी पूरी कर चुके थे. टीम 37.2 ओवर में 150 रन के पार पहुंची.40 ओवर में इंग्‍लैंड का स्‍कोर चार विकेट खोकर 170 रन था और शेष 10 ओवर में टीम को 72 रन की दरकार थी। एक समय लग रहा था कि इंग्लैण्ड स्कोर बनाने के करीब पहुँच चूका है लेकिन वह 241 रन से आगे नहीं बढ़ सका और उसके सभी खिलाडी आउट हो गए।

न्यूजीलैंड की तरफ से लॉकी फर्ग्यूसन और जिमी नीशम ने तीन तीन विकेट लिए, वहीँ कॉलिन डी ग्रैंडहोम और मैट हेनरी ने एक एक विकेट लिया।

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरुआत खराब रही और 7वें ओवर में मार्टिन गप्टिल 19 रन बनाकर आउट हुए। पहले पावर प्ले में न्यूजीलैंड ने एक विकेट के नुकसान पर 33 रन बनाए।

न्यूजीलैंड के 50 रन 13.4 ओवर में पूरे हुए। न्यूजीलैंड ने 21.2 ओवर में अपने 100 रन पूरे किए। कप्तान केन को प्लंकेट ने विकेट के पीछे बटलर के हाथों लपकवाया। न्यूजीलैंड को निकोलस के रूप में तीसरा झटका लगा।

हेनरी निकोलस ने वर्ल्ड कप में अपना पहला और करियर का 9वां अर्धशतक लगाया। वे 55 रन बनाकर प्लंकेट की गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद टेलर भी 15 रन ही बना सके। नीशाम 19 रन बनाकर आउट हुए। ग्रैंडहोम तेजी से रन नहीं बना सके और 16 रन बनाकर आउट हुए।

टीमें:

इंग्लैंड: इयोन मॉर्गन (कप्तान), जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, जोस बटलर, बेन स्टोक्स, मार्क वुड, क्रिस वोक्स, लियोम प्लंकेट, जोफ्रा आर्चर, आदिल राशिद

न्यूजीलैंड: हेनरी निकोलस, मार्टिन गप्टिल, केन विलियमसन (कप्तान), रॉस टेलर, जिमी नीशम, टॉम लाथम, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, ट्रेंट बोल्ट, लॉकी फर्ग्यूसन, मैट हेनरी, मिशेल सेंटनर

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें