7 साल की रिफाह का नाम गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ

नई दिल्ली। मैसूर की एक सात साल की मुस्लिम बच्ची रिफाह तक्सीन का नाम गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया है। रिफाह 17 तरह की गाड़ियां चला सकती है।

इतनी कम उम्र होने के बावजूद रिफाह लॉरी, महिंद्रा बोलेरो, टाटा एस, महिंद्रा स्कॉर्पियो, टॉयोटा फॉर्च्युनर, मारुति 800, मारुति वैन, मारुति एस्टीम, जेन, सैंट्रो, फोर्ड, वेरना, इंडिका के साथ-साथ स्पोर्ट्स कार क्वॉड बाइक भी चला चुकी है।

रिफाह की कामयाबी का सिलसिला यहीं नहीं थमा। रिफाह बड़ी होकर फाइटर पायलट बनना चाहती हैं। उसने अब मैसूर फ़्लाइंग एयरक्राफ्ट में एडमिशन लिया है।

रिफाह के पिता ताजुद्दीन बताते हैं कि उनका सपना एक रेसर बनने का था, लेकिन कई वजहों से वे ऐसा नहीं कर सके। अब वे अपनी बेटी को इंटरनेशनल रेसर बनाने का सपना देख रहे हैं।

रिफाह की कामयाबी में उसके पिता ताजुद्दीन का बहुत बड़ा योगदान है। पिता ताजुद्दीन ने उसके लिए सीट को मोडिफाई किया ताकि पैर आसानी से ब्रेक और एक्सलरेटर तक पहुंच सके। अभी हाल ही में रिफाह ने बन्नीमंटाप के ईदगाह मैदान पर 15 मिनट तक दस चक्का ट्रक भी चलाया जिसकी ट्रेनिंग पिता ने दी थी।

एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए रिफाह तक्सीन ने कहा कि ” मैं अभी बहुत कुछ करना चाहती हूं और अपने माता-पिता को गौरवान्वित करवाना चाहती हूं। अभी मैं उम्र के लिहाज से कई चीज़ो के लिए क़ानूनी बाध्यता के चलते आगे नहीं बढ़ पा रही, लेकिन मेरे हौसले बुलंद है।”

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
loading...