2019 को लेकर आई एक और सर्वे रिपोर्ट में बीजेपी के लिए खतरे की घंटी

नई दिल्ली। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले यदि विपक्ष का महागठबंधन बन जाता है तो केंद्र की सत्ता से एनडीए की विदाई तय है। वहीँ यदि लोकसभा चुनाव पूर्व विपक्ष का महागठबंधन नही बनता तब भी 2014 की तरह बीजेपी को अपने बूते केंद्र में सरकार बनाना मुश्किल हो जायेगा और उसके सहयोगी दलों का मूंह ताकना पड़ेगा।

कार्वी इनसाइट्स-इंडिया टुडे के सर्वे में कहा गया है कि 2019 के आम चुनाव की राह बीजेपी के लिए आसान नही होगी। सर्वे के अनुसार यदि देश में आज आम चुनाव हो जाएँ तो बीजेपी को कम से कम 80 सीटों का नुकसान होगा।

सर्वे के अनुसार आज की स्थति में चुनाव होने पर एनडीए को 36 फीसदी, यूपीए को 31 फीसदी तथा अन्य को 33 फीसदी वोट हासिल होंगे। इस हिसाब से एनडीए को 281, यूपीए को 122 तो अन्य को कुल 140 सीटों पर जीत हासिल होगी। यानि संसद में बीजेपी और सहयोगियों की तादाद 281 तथा विपक्ष की तादाद 262 हो जाएगी।

सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि यदि अब से दस महीने बाद लोकसभा चुनाव होते हैं और यदि विपक्ष मिलकर चुनाव लड़ता है तो यूपीए को लोकसभा की कुल 543 सीटों में से कुल 242 सीटों पर जीत हासिल होगी। सर्वे के मुताबिक विपक्ष का महा गठबंधन बनता तो कांग्रेस को बड़ा फायदा नही होगा और कांग्रेस 97 सीटें ही जीत सकती है।

सर्वे में यह भी पूछा गया कि 2019 लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी में से कौन बेहतर है। 49 फीसदी लोगों ने मोदी को तो वहीं 27 फीसदी लोगों ने राहुल को इस पद के लिए बेहतर करार दिया।

यदि सर्वे के मूल विन्दुओं पर नज़र डाली जाए तो ये कहा जा सकता है कि 2019 में बीजेपी की राहें आसान नही होंगी। उसे अपने बूते बहुमत मिलने की संभावना कम ही है। सरकार बनाने के लिए उसे सहयोगी दलों पर निर्भर रहना पड़ेगा साथ ही यदि केंद्र में एनडीए सरकार बनाने में सफल रहता है तब भी विपक्ष और सरकार के बीच सांसदों की तादाद में बड़ा फर्क नही रहेगा।

सर्वे रिपोर्ट की माने तो यदि देश में चुनाव पूर्व विपक्ष का महागठबंधन बन जाता है तो कांग्रेस की सीटें 2014 के चुनाव की तुलना में दो गुनी से कुछ अधिक तक पहुँच सकती हैं तथा त्रिशंकु लोकसभा के आसार हैं। वहीँ यदि चुनाव पूर्व विपक्ष का महागठबंधन नही बनता और विपक्ष अलग अलग चुनाव लड़ता है तो भी बीजेपी नुक्सान होगा।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *