हिन्दू महासभा का पीएम को खून से पत्र: एससी एसटी एक्ट पर पुनर्विचार याचिका वापस लें

अलीगढ़। एससी एसटी एक्ट पर सुप्रीमकोर्ट के संशोधन के खिलाफ केंद्र सरकार द्वारा दायर की गयी पुर्नविचार याचिका को लेकर हिन्दू महासभा के कार्यकर्ताओं ने पीएम नरेंद्र मोदी को खून से पत्र लिख कर भेजे हैं।

हिन्दू महासभा ने मांग की है कि सरकार एससी एसटी एक्ट पर सुप्रीमकोर्ट के संशोधन पर पुनर्विचार वाली याचिका वापस ले ले। इस सन्दर्भ में अलीगढ हिन्दू महासभा के कार्यकर्ताओं ने यह चेतावनी भी दी है कि अगर उनकी मांग नहीं मानी गई तो वे दिल्ली के रामलीला मैदान में सिर मुंडवाकर प्रदर्शन करेंगे।

एससी-एसटी में सुप्रीम कोर्ट की ओर से किए गए बदलाव से नाराज देश भर के दलित संगठनों ने 2 अप्रैल को भारत बंद किया था। बंद के दौरान देश भर में हिंसा हुई थी, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई थी। आगजनी और पथराव में वाहनों और संपत्तियों को भी नुकसान पहुंचा था।

एससी-एसटी में हुए बदलाव को लेकर 2 अप्रैल को ही केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी, जिसकी जानकारी केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दी थी।

याचिका पर सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से यह मांग की थी कि जब तक पुनर्विचार याचिका पर कोई फैसला न आ जाए, एससी-एसटी एक में हुए बदलाव पर कोर्ट स्टे लगा दे। लेकिन कोर्ट ने स्टे लगाने से इंकार कर दिया था।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने एससी-एसटी एक्ट में बदलाव करते हुए तत्काल गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी और अग्रिम जमानत देने के लिए कहा था। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा था कि कानून के दुरुपयोग को देखते हुए इसमें बदलाव किए गए हैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *