हिंदुत्व वाली सरकार ने रद्द की हिन्दू तीर्थ यात्रियों की मुफ्त यात्रा योजना

लखनऊ ब्यूरो। खुद को हिंदुत्व का रहनुमा बताने वाली उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने हिन्दू तीर्थ यात्रियों को दिए जाने मुफ्त यात्रा सुविधा पर ब्रेक लगा दिया है। श्रवण यात्रा नामक यह योजना समाजवादी पार्टी सरकार के शासनकाल में शुरू की गयी थी।

साल 2015 में शुरू हुई इस योजना के तहत राज्य के बुज़ुर्ग हिंदू तीर्थयात्रियों के लिए धार्मिक स्थलों के लिए मुफ़्त यात्रा का प्रावधान था। लोगों की माने तो इस योजना से उन बुजुर्गो को बेहद लाभ मिला था जो धन आभाव के कारण तीर्थ करने से वंचित रह जाते थे।

द हिंदू के मुताबिक उत्तर प्रदेश विधानसभा में उठे एक प्रश्न का उत्तर देते हुए राज्य के धार्मिक मामलों के मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने ये जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि जनहित में इस योजना को रद्द किया जा रहा है।

राज्य सरकार के मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा है कि सरकार की इस योजना को फिर से चालू करने का कोई इरादा नहीं है। इस योजना के रद्द होने का खुलासा होने के बाद अब बीजेपी की नीयत पर सवाल उठना शुरू हो गए हैं।

हिंदुत्व के एजेंडे को आगे बढ़ाने वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा ही हिन्दू तीर्थ यात्रियों की योजना पर कैंची चलाये जाने का मामला तूल पकड़ने के आसार हैं। यह योजना किन कारणों से रद्द की गयी है इस संदर्भ में राज्य सरकार की तरफ से कोई ठोस कारण नहीं दिया गया। इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि पूर्व की अखिलेश सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं पर कैची चलाये जाने की नीति के तहत इस योजना पर भी ब्रेक लगाया गया है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी सरकार बनने के बाद पूर्व की अखिलेश यादव सरकार की कई योजनाओं को बंद कर दिया गया है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें