बड़ी खबर

हरियाणा RS चुनाव में धांधली मामले में कांग्रेस ने विधायकों से लिए शपथ पत्र

congress-flags

चंडीगढ़। हरियाणा के राज्यसभा चुनाव में हुई धांधली के खिलाफ आरके आनंद कानूनी लड़ाई लड़ने की तैयारी में हैं। कांग्रेस व इनेलो समर्थित उम्मीदवार आरके आनंद के आग्रह पर हाईकमान ने राज्य के सभी कांग्रेस विधायकों से शपथ पत्र मांग लिए हैं। विधायकों ने कांग्रेस हाईकमान को आनंद को वोट देने संबंधी शपथ पत्र भेज दिए हैैं।

आनंद द्वारा इनेलो विधायकों से भी उन्हें वोट दिए जाने के संबंध में शपथ पत्र मांगे गए हैं। मंगलवार शाम तक इनेलो विधायकों के शपथपत्र आनंद को मिल जाने की संभावना है। इन शपथ पत्रों के आधार पर आनंद केंद्रीय चुनाव आयोग, मुख्य निर्वाचन अधिकारी, हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में लड़ाई लड़ेंगे।

पश्चिमी बंगाल में भी कांग्रेस विधायकों से शपथ पत्र मांगे गए थे, लेकिन वे शपथ पत्र पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी में आस्था से जुड़े थे। हरियाणा में जो शपथ पत्र लिए गए हैं, उसमें विधायकों से लिखवाया गया कि उन्होंने अपने वोट आनंद को दिए हैैं।

कांग्रेस विधायकों को भेजे गए शपथ पत्र की भाषा संशोधित भी करनी पड़ी। आनंद ने यह भाषा ड्राफ्ट की थी। पहले विधायकों से लिखवाया गया था कि उनके वोट रद हुए हैैं, लेकिन इस भाषा पर जब कांग्र्रेस विधायक कर्ण सिंह दलाल ने यह कहते हुए आपत्ति जताई कि कानूनी तौर पर इसमें पेंच फंस सकता है तो भाषा बदली गई।

दूसरे शपथ पत्र के प्रारूप में लिखकर आया कि हम कांग्रेस विधायकों ने पार्टी की हिदायतों के अनुसार आनंद को वोट दिए हैं और विधानसभा में चुनाव अधिकारी द्वारा उपलब्ध करवाए पेन से ही वोट दिए है। इस एक लाइन के शपथ पत्र पर कांग्र्रेस विधायकों के संयुक्त हस्ताक्षर होने की खबर है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर राज्यसभा चुनाव की कंट्रोवर्सी के मामले में खुलकर पार्टी विधायकों के समर्थन में आ गए हैं। उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा पार्टी के प्रदेश प्रभारी कमलनाथ से मुलाकात कर इस मुद्दे पर चर्चा की है। तंवर इससे पहले राहुल गांधी और कमलनाथ से मिल चुके हैैं।

सोनिया गांधी से जल्दी ही पार्टी विधायकों की मुलाकात भी होने की संभावना है। तंवर ने सोनिया गांधी को चुनाव आयोग और भाजपा की मिलीभगत होने के आरोप लगाते हुए कहा कि सभी कांग्र्रेस विधायकों ने आनंद को वोट दिए हैैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Facebook

Copyright © 2017 Lokbharat.in, Managed by Live Media Network

To Top