हरियाणा के किसानो की लड़ाई लड़ेंगे पूर्व सीएम हुड्डा

नई दिल्ली। महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन के बाद अब हरियाणा में किसान आंदोलन शुरू हो सकता है। किसानो के लिए कर्ज माफ़ी और फसल की उचित कीमत दिए जाने के मांग को लेकर हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा किसानो के लिए सरकार के खिलाफ एक बड़ा आंदोलन शुरू करेंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा के घर पर हुई बैठक में इसका पूरी रणनीति बनाई गई है। इस रणनीति के मुताबिक हुड्डा हर पंचायत में जाकर किसानों को उनका हक़ दिलाने की बात करेंगे। शुरुआत 16 जून को कुरुक्षेत्र से होगी।

हुड्डा के दिल्ली स्थित घर पर बुलाई गई बैठक में सैकड़ों की तादाद में किसान पहुंचे. हुड्डा कहते हैं कि इन्होंने बस कुछ नेताओं को चर्चा के लिए बुलाया था लेकिन जिस तादाद में किसान यहां पहुंचे, उससे ज़ाहिर है कि किसान किस क़दर परेशान हैं और कांग्रेस की तरफ देख रहे हैं।

यहां पहुंचे किसानों की शिकायत है कि राज्य की खट्टर सरकार न तो किसानों को फसल की पूरी क़ीमत दे रही है और न ही उन्हें हुए नुकसान की भरपाई ही कर रही है। बीमा कंपनियां भी मनमाने ढंग से पेश आ रही हैं।

इन किसानों की मांग है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के हिसाब से इन्हें सतलज-यमुना लिंक से इनके हिस्से का पानी मिले, कच्चे तेल की गिरी दर के अनुपात में डीज़ल की दर कम हो, सब्ज़ियों का भी समर्थन मूल्य तय किया जाए और गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाया जाए और इसे 400 रुपये क्विंटल किया जाए।

समझा जाता है कि हरियाणा में खट्टर सरकार के खिलाफ कांग्रेस जल्द ही विगुल फूंकने की तैयारी में जुटी है। किसानो के हितो की इस लड़ाई का नेतृत्व खुद पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा करेंगे। आंदोलन को धार देने के लिए हुड्डा आजकल हरियाणा की हर पंचायत का दौरा कर रहे हैं और हरियाणा सरकार की नीतियों पर कड़ा प्रहार कर रहे हैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *