हरियाणा की गौशाला में बारिश और खाने पीने की अव्यवस्था के चलते 25 गायो की मौत

कुरुक्षेत्र। हरियाणा के मथाना गाँव में चल रही एक गौशाला में 25 गायो की मौत हो गयी। बताया जा रहा है कि तेज बारिश के चलते गौशाला में पानी भर गया जिसके कारण उन्हें चारा देने की व्यवस्था नहीं हो सकी।

स्थानीय लोगों के अनुसार बारिश का पानी गौशाला में भरने के बाद उसे निकालने की कोई व्यवस्था नहीं की गयी। कीचड़ के चलते गाय गौशाला के अंदर ही फसी रहीं और उन्हें चारा तक न मिल सका। मथाना गंव की प्रधान ने मीडिया को बताया कि गौशाला में बारिश से निपटने का इंतजाम नहीं ता इस कारण ये घटना घटी।

वहीं हरियाणा गाौ सेवा कमीशन के अधिकारियों ने भी जानकारी मिलने पर मथाना का दौरा किया। कमीशन के अधिकारियों ने बताया कि जो गायें वहां फंसी हुई थीं उन्हें प्रदेश के दूसरे गौशालाओं में शिफ्ट किया जा रहा है। गौशाला के पूर्व प्रमुख अशोक पपनेजा के मुताबिक गौशाला में लगभग 600 गायें थीं। इतनी बड़ी संख्या में पशुओं के लिए चारे और पानी की बराबर व्यवस्था भी नहीं थी।

गौशाला की देखभाल का जिम्मा ग्राम पंचायत और जिले के एनिमल हसबैंडरी विभाग के पास रहता है। एनिमल हसबैंडरी विभाग के अधिकारियों के अनुसार यहां पर गायों के लिए सारी सुविधाएं हैं, लेकिन दुर्भाग्यवश भारी बारिश के चलते 25 से 30 गायों को अपनी जान गंवानी पड़ी।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें