‘हम पकोड़े नहीं बेचेंगे’ की तख्ती गले में डालकर बेरोज़गारो ने रोकी रेल

आरा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पकोड़े बेचने को रोज़गार बताने से नाराज़ बिहार के आरा के बेरोज़गारो ने स्टेशन पर धावा बोलकर रेल रोक दी।

बेरोज़गारो ने गले में तख्तियां लटकाई हुईं थीं जिन पर लिखा था ‘हम पकोड़े नहीं बेचेंगे’। आक्रोशित बेरोजगार छात्र रेलवे की बहाली में आयु सीमा कम किये जाने का विरोध कर रहे थे।

मौके पर पुलिस के पहुँचने के बावजूद छात्रों और बेरोज़गारो का हंगामा लगातार काफी देर तक जारी रहा। इस दौरान छात्रों की ओर से पथराव किये जाने की भी सूचना है। इसमें कई पुलिसकर्मी और अधिकारी घायल हो गये।

इससे पहले आक्रोशित छात्रों ने प्रधानमंत्री मुर्दाबाद की नारेबाजी भी की। बेरोजगार छात्रों ने ‘सर्जिकल स्ट्राइक’, ‘हम चाय-पकौड़ा नहीं बेचेंगे’ और ‘सरकार रिक्त पदों को भरे’, जैसे नारे लिखे पोस्टर लेकर आरा जंक्शन पहुंचे थे।

आरा स्टेशन पर छात्रों का कब्जा होने से ट्रेनों का परिचालन ठप हो गया। इतना ही नहीं छात्रों द्वारा पथराव किये जाने से पटना-सासाराम पैसेंजर ट्रेन का इंजन भी क्षतिग्रस्त हो गया। कई ट्रेनों को आरा जंक्शन के दोनों ओर के पिछले स्टेशनों पर रोक दिया गया।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें