स्वेटर, मफलर और टोपी पहने थे मंत्री जी, बच्चो को स्वेटर न मिलने पर बोले ‘मार्च तक पड़ती है सर्दी’

देवरिया। उत्तर प्रदेश में जहाँ कई इलाको में कड़ाके की सर्दी पड़ रही हैं वहीँ अभी तक स्कूली बच्चो को स्वेटर वितरित नहीं किये गए हैं। जब ये सवाल उत्तर प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही से किया गया तो उन्होंने इस मामले पर जो कुछ कहा वह गरीब बच्चो के साथ किसी क्रूर मज़ाक से कम नहीं है।

देवरिया जिले के एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही से जब कहा गया कि कड़ाके की सर्दी के बावजूद देवरिया जिले के स्कूलों में बच्चो को स्वेटर वितरण नहीं किये गए हैं तो कृषि मंत्री ने तुनक कर जबाव दिया कि ‘सर्दी तो मार्च तक पड़ती है, मिल जायेंगे सभी बच्चो को स्वेटर’।

गौरतलब है कि देवरिया जिले में इस वक़्त कड़ाके की ठंड पड़ रही है और कई जगह पारा 4 डिग्री तक पहुंच गया है। इस कड़ाके की ठंड में बच्चे स्कूल जाने को मजबूर है। स्वेटर मिलने की राह देखते देखते दिसंबर का महीने आ गया लेकिन स्कूली बच्चों को आजतक स्वेटर वितरण नहीं हो पाया है।

गौरतलब है प्रदेश के 1 लाख, 59 हजार प्राइमरी और अपर प्राइमरी स्कूलों पढ़ने वाले करीब 1 करोड़, 54 लाख छात्रों को स्वेटर वितरित किया जाना है। वहीं योगी सरकार ने अपने पहले अनुपूरक बजट में परिषदीय स्कूलों में कक्षा एक से लेकर आठ तक के बच्चों को मुफ्त स्वेटर देने के लिए 390 करोड़ रुपये निर्धारित किया गया है।

पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी कड़ाके की सर्दी के बावजूद स्कूली बच्चो में स्वेटर वितरण न हो पाने को लेकर सवाल उठाये थे लेकिन लगता है कि सरकार बच्चो से जुड़े मामले को गंभीरता से नहीं ले रही।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *