स्टिंग में पैसे लेकर फेक एनकाउंटर के खुलासे के बाद तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड

लखनऊ ब्यूरो। उत्तर प्रदेश सरकार के दावे की उस समय पोल खुल गयी जब एक न्यूज़ चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में पुलिसकर्मी पैसे लेकर फेक एनकाउंटर करने को तैयार हो गए।

उत्तर प्रदेश सरकार राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर लगातार दावे कर रही है कि यहाँ पुलिस के खौफ से अपराधी राज्य छोड़कर भाग रहे हैं। लेकिन स्टिंग ऑपरेशन में जो खुलासा सामने आया है उससे साफ़ हो गया है कि एनकाउंटर के नाम पर पुलिस किसी भी हद तक जा सकती है।

स्टिंग ऑपरेशन में खुलासे के बाद उत्तर प्रदेश के डीजीपी ने तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से इस बाबत जानकारी दी है।

ट्वीट में लिखा गया है कि पुलिस महानिदेशक ने पुलिसकर्मियों के इस तरह के गैर-जिम्मेदाराना बयान को गंभीरता से लिया है जिससे यूपी पुलिस की छवि धूमिल हुई है। पुलिस महानिदेशक ने आरोपी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने का आदेश दिया है।

गौरतलब है कि आजतक- इंडिया टुडे के एक स्टिंग ऑपरेशन में खुलासा हुआ है कि पब्लिसिटी, प्रमोशन और पैसे के लिए पुलिसकर्मी निर्दोष लोगों को झूठे मामलो में फंसा कर मुठभेड़ के नाम पर फ़र्ज़ी एनकाउंटर कर देते हैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें