साध्वी प्रज्ञा ने कहा ‘हम नाली और शौचालय साफ़ करवाने के लिए नहीं बने सांसद’

भोपाल ब्यूरो। भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक ऐसा बयान दिया है जो पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के पूरी तरह खिलाफ है। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि हम नाली और शौचालय साफ़ करवाने के लिए सांसद नहीं बने हैं।

साध्वी प्रज्ञा ने मध्य प्रदेश के सीहोर में कहा, ‘हम नाली साफ करवाने के लिए नहीं बने हैं। आपका शौचालय साफ करवाने के लिए बिल्कुल नहीं बनाए गए हैं। हम जिस काम के लिए बनाए गए हैं, वह काम हम ईमानदारी से करेंगे।’

साध्वी प्रज्ञा का बयान तूल पकड़ सकता है। इससे पहले भी वे अपने बयान से पार्टी की किरकिरी करा चुकी हैं। उन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान मुंबई हमले में शहीद हुए तत्कालीन एटीएस चीफ हेमंत करकरे को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का विवादित बयान देने का सिलसिला यहीं नहीं थमा और उन्होंने गोडसे की तारीफ़ में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर गंभीर टिप्पणी कर दी। जिस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी नाराज़गी व्यक्त की थी।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर साध्वी प्रज्ञा द्वारा की गयी टिप्पणी पर नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि मैं उन्हें (प्रज्ञा ठाकुर) कभी मन से माफ नहीं कर पाऊंगा।

गौरतलब है कि साध्वी प्रज्ञा 2008 में हुए मालेगांव ब्लास्ट में आरोपी हैं, जिसमें छह लोगों की मौत हो गई थी। वे ज़मानत पर बाहर हैं और बीजेपी ने उन्हें लोकसभा चुनाव में टिकिट दिया था। साध्वी प्रज्ञा ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के हैवी वैट दिग्विजय सिंह को पराजित किया था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें