सांप्रदायिक सौहार्द तथा शांति के लिए कांग्रेस का देशव्यापी उपवास

नई दिल्ली। बीजेपी सरकार के खिलाफ और देश में सांप्रदायिक सौहार्द तथा शांति को बढ़ावा देने के लिए देशभर के सभी राज्य और जिला मुख्यालयों में आज कांग्रेस कार्यकर्त्ता उपवास रखेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दिल्ली में राजघाट पर महात्मा गांधी के समाधी स्थल पर उपवास में शामिल होंगे।

देशभर में उपवास कार्यक्रम के आयोजन के लिए कांग्रेस की तरफ से ‘शांति और सौहार्द इस देश की आत्मा में मिले हैं और इन्हें बचाने और बढ़ावा देने की जिम्मेदारी कांग्रेस की है।’ ये हैं उस चिट्ठी की पंक्तियां जो कांग्रेस की ओर से अपने सभी प्रदेश इकाइयों के पदाधिकारियों को भेजी गई हैं।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रभारी महासचिव (संगठन) अशोक गहलोत ने इस बारे में सभी पीसीसी प्रमुखों, महासचिवों, प्रभारियों और कांग्रेस विधायक दलों के नेताओं को चिट्ठी भेज कर उपवास के आयोजन के लिए कहा है।

गहलोत ने चिट्ठी में लिखा है, ‘2 अप्रैल को भारत बंद प्रदर्शन के दौरान जो हुआ, वो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण था। ये देश के सामाजिक तानेबाने के लिए बहुत खतरनाक है। साफ है कि बीजेपी शासित केंद्र और राज्य सरकारों ने हिंसा को रोकने के कदम उठाने की पहल नहीं की। ना ही भाईचारे को बचाने के लिए कुछ किया। ऐसे में कांग्रेस के लिए ये और अहम है कि मुश्किल वक्त में देश की अगुआई करे।’

दिल्ली में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्त्ता राजघाट पर महात्मा गांधी के समाधी स्थल पर उपवास रखेंगे। इसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हो रहे हैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें