संवेदनशीलता के नाम पर माहौल बिगाड़ने की कोशिश

अलीगढ़ ब्यूरो। ढाई साल की मासूम बच्ची ट्विंकल की बेरहमी से हत्या के बाद पुलिस ने अब तक सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इसके बावजूद कुछ समाज विरोधी तत्व अलीगढ जनपद की शांति व्यवस्था को पलीता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

टप्पल में हुई घटना पर विरोध जताने के बहाने कल दिल्ली मथुरा एक्सप्रेस वे पर जाम लगाने की कोशिश की गयी तो पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर जाम खुलवाया। पुलिस ने बड़ी सूझबूझ से जाम लगाने वाले लोगों को एक्सप्रेस वे से खदेड़ा।

टप्पल में चप्पे चप्पे पर तैनात पुलिस और सुरक्षाबलों की मौजूदगी के बावजूद भीड़ की शक्ल में एक समुदाय विशेष के यहाँ आयी बरात पर हमला करने की कोशिश की गयी। इस दौरान बारातियों ने घरो में छिपकर अपनी जान बचाई।

संवेदनशीलता के नाम पर माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे असामाजिक तत्वों ने बल्ल्भगढ़ से अलीगढ आ रहे एक मुस्लिम परिवार की जट्टारी में कार रुकवा कर मारपीट की। पीड़ित परिवार ने अपने ऊपर हुए हमले की शिकायत अलीगढ के थाना सिविल लाइन थाने में दर्ज कराई है।

इस बीच खैर के सर्किल ऑफिसर (सीओ) पंकज श्रीवास्तव को ट्रांसफर कर दिया गया है। उनकी जगह सीओ सिटी द्वितीय संजीव दीक्षित को खैर का नया सीओ बनाया गया है।

जनपद में शान्ति सुनिश्चित करने के लिए जिला प्रशासन पूरी सतर्कता बरत रहा है। अफवाह फैलाने की कोशिश कर रहे लोगों को चिन्हित करने के लिए सोशल मीडिया साइट पर नज़र रखी जा रही है। इस बीच सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी किये जाने को लेकर 9 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस ने बाहरी लोगों के टप्पल में प्रवेश पर कड़ी नज़र रखी। टप्पल में कल दिन भर अफरातफरी का माहौल रहा। पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के चलते कई बार असामाजिक तत्व अपनी हरकतों को अंजाम देने में नाकामयाब हुए।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें