शोएब अख्तर ने मुझे और युवी को कमरे में घुसकर पटक कर मारा था

bhajji

नई दिल्ली । क्रिकेट के कई किस्से हैं। मैदान पर मैच होते हैं और ऐसा बहुत कुछ हो जाता है जो किस्सा बन जाता है। ऐसा ही एक किस्सा टीम इंडिया में टर्बनेटर के नाम से मशहूर हरभजन सिंह ने भी सुनाया। भज्जी ने शनिवार को बताया कि एक बार उन्होंने एक ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर से पूछ लिया था कि क्या तुम प्रेगनेंट हो?

बात भारत के ऑस्ट्रेलियाई दौरे की है, उस दौरान डेरेन लीमैन के लगातार छींटाकशी करने से परेशान होकर भज्जी ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के इस मौजूदा मुख्य कोच के बड़े पेट की ओर इशारा करके पूछा था कि क्या वह प्रेगनेंट हैं। भज्जी ने कहा कि उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की बातों का हमेशा वापस जवाब दिया और इनमें लीमैन और महान तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा भी शामिल हैं।

‘मैं पंजाब का हूं और…’
ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के साथ हरभजन की बहस होती रही है। हरभजन ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को लगता है कि वे सबसे बड़े सुपर स्टार हैं, उन्हें कोई नहीं हरा सकता, वे हमेशा दबदबा बनाने की कोशिश करते हैं। लेकिन हम ऐसी पीढ़ी के हैं जो कभी दबकर नहीं रहती। मैं पंजाब का हूं और पंजाबी हमेशा अपने मन की बात कह देते हैं।’

एक टीवी शो पर हरभजन ने कहा, ‘मैं बल्लेबाजी कर रहा था और लीमैन लगातार छींटाकशी कर रहा था। उसका पेट काफी बड़ा था और उसकी छींटाकशी से मैं इतना खीज गया कि उसके पेट की ओर इशारा करते हुए पूछा, क्या तुम प्रेगनेंट हो? लीमैन ने यह शेन वार्न को बताया तो वह ठहाके मारकर हंसने लगा। वार्न ने मुझसे पूछा कि क्या मैंने ऐसा कहा़? वैसे, आम तौर पर खिलाड़ियों के इतने बड़े पेट नहीं होते।

एंड्रयू साइमंड्स के साथ विवादास्पद बहस पर हरभजन ने कहा, ‘मैंने बंदर नहीं कहा था। यह उनका आरोप था। मैंने सिर्फ इतना कहा था (तेरी मां की हाथ की रोटी खाने को बड़ा दिल कर रहा है। उसने बिलकुल भी नहीं सुना। वैसे भी उसे हिंदी नहीं आती और मुझे अंग्रेजी नहीं आती।)’

‘शोएब से मैदान के बाहर अच्छी दोस्ती’
हरभजन ने कहा कि पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के साथ भी उनकी बहस होती रही है लेकिन मैदान के बाहर वे दोस्त हैं। उन्होंने कहा, ‘शोएब मुझे काफी परेशान करता था। वह हमारे साथ बैठता था, हमारे साथ खाता था। वह हमारे काफी करीब था इसलिए वह हमें तवज्जो नहीं देता था। उसने एक बार मुझे छक्का जड़ने की चुनौती दी और जब मैंने छक्का मार दिया तो वह स्तब्ध हो गया। उसने इसके बाद लगातार दो बाउंसर फेंके जिससे मैं बच गया। उसने इसके बाद मुझे अपशब्द कहे और इसका मैंने जवाब दिया। लेकिन मैच के बाद हम साथ बैठे जैसे कुछ हुआ ही नहीं।’

‘शोएब ने मुझे और युवी को कमरे में पीटा था’
हरभजन ने कहा, ‘शोएब ने एक बार मुझे कहा कि वह मेरे कमरे में आकर मुझे पीटेगा। मैंने उसे कहा कि आ जा और देखते हैं कौन किसे पीटता है। मैं काफी डर गया था। वह काफी लंबा चौड़ा था। उसने एक बार मुझे और युवी ( युवराज सिंह) को कमरे के अंदर मारा था। वह काफी भारी था इसलिए उसे काबू में करना मुश्किल था।

‘श्रीसंत को थप्पड़ मारना मेरी गलती थी’
आईपीएल के दौरान एस श्रीसंत को थप्पड़ जड़ने पर हरभजन ने कहा, ‘असल में उसने नौटंकी की। यह मेरी गलती थी कि मैंने मैदान पर वह (थप्पड़ मारा) किया। मैंने अपने सभी इंटरव्यू में स्वीकार किया है कि मैंने अपने जीवन में यह गलती की।’ उन्होंने कहा, ‘श्रीसंत मामले में मैं दोषी था और मैं आज भी शर्मसार हूं लेकिन जैसे वह रोया लगा कि मैंने उसे बहुत जोर से मारा। लेकिन वैसे भी इसे कोई भी इस तरह ही याद रखेगा कि मैंने गलती की थी। मैं एक बार फिर माफी मांग रहा हूं।’

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें