शिवसेना का आरोप: चुनाव जीतने के लिए ईवीएम से हेराफेरी कर रही बीजेपी

मुंबई। शिवसेना ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी चुनाव जीतने के लिए ईवीएम में हेराफेरी कर रही है। पार्टी ने अपने मुखपत्र सामना के सम्पादकीय में यह भी कहा कि ईवीएम से मतदान प्रक्रिया से लोगों का भरोसा उठता जा रहा है।

बेंगलुरु में फर्जी इलेक्शन आईकार्ड मिलने का मुद्दा उठाते हुए शिवसेना ने कहा कि इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि चुनाव जीतने के लिए बीजेपी कितना नीचे गिर सकती है।

शिवसेना ने सामना में बीजेपी पर व्यंग्य करते हुए कहा कि कम शब्दों में कहा जाए तो भाजपा ने कांग्रेस की किसी भी कीमत पर चुनाव जीतने वाली नीति अपना ली है। कांग्रेस को गर्व महसूस हो रहा होगा कि भाजपा उनकी विचारधारा को आगे ले जा रही है। शिवसेना ने आरोप लगाया कि कांग्रेस भी अपने शासन के दौरान ऐसे कदाचार में शामिल रही थी।

शिवसेना ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘ कांग्रेस मुक्त भारत ’ बनाने की बात करते हैं। भले ही कांग्रेस खत्म होने की कगार पर पहुंच गई है लेकिन उसके विचार नहीं मरे हैं। भाजपा कांग्रेस की विशेषताओं को अपना कर उसे खत्म करने की कोशिश कर रही है।

शिवसेना ने सामना में कहा कि कर्नाटक चुनाव से पहले , बेंगलुरु के एक मकान से 10,000 फर्जी मतदाता पहचान – पत्र मिले. कांग्रेस ने भाजपा को इस मुद्दे पर घेरा. यह मतदाता पहचान – पत्र घोटाला दिखाता है कि कर्नाटक चुनाव का स्तर कितना गिर गया है।

मुखपत्र में शिवसेना ने आरोप लगाया कि चुनावों में बड़ी मात्रा में धन का इस्तेमाल हो रहा है। भाजपा को इतनी रकम कहां से मिलती है यह किसी से छिपा नहीं है। किसी भी चुनाव से पहले कैश का फ्लो बढ़ जाता है चाहे वह पंचायत चुनाव हो या फिर लोकसभा चुनाव. ऐसा लगता है कि हर घर में ‘ मुद्रा बैंक ’ नोट छाप रहे हैं। कांग्रेस ऐसा किया करती थी जो अब भाजपा कर रही है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें