शर्मा जी ही हैं रजिया बानो, फेसबुक पर नाम बदलकर घिनौने पोस्ट

नई दिल्ली। मंदसौर में एक मासूम बच्ची के साथ हुए जघन्य रेप की घटना को सांप्रदायिक रंग भरने के उद्देश्य से एक फेसबुक प्रोफ़ाइल से आपत्तिजनक ट्वीट हुए। जिसमे मंदसौर रेप में गिरफ्तार आरोपी का फोटो डालकर कहा गया कि ये मुसलमान शेर है, जिसने आसिफा का बदला लिया है।

ऑल्ट न्यूज़ ने इस प्रोफाइल की तह तक पड़ताल की तो पता चला कि यह प्रोफाइल पहले किसी और नाम से था। इस प्रोफाइल को कोई शर्मा नामक व्यक्ति चला रहा था जिसने अचानक ही अपने प्रोफाइल में नाम बदलते हुए इसको रजिया बानो का नाम दे दिया।

इस प्रोफाइल का नाम बदले जाने पर प्रोफाइल से जुड़े फ्रेंड् नवीन मेश्राम सोनू नामक व्यक्ति ने सवाल भी किया कि “शर्मा जी नाम क्यों बदल लिया”? वहीँ फ्रेंड रमाकांत सिंह ने भी नाम बदलने पर सवाल उठाते हुए कहा कि “पवन भाई अब मुल्ले बनोगे क्या? सॉरी मुल्ले”।

इन कमेंट्स से यह समझने में बहुत देर नहीं लगी कि रजिया बानो के जिस फेसबुक प्रोफाइल से आपत्तिजनक पोस्ट शेयर हो रहे थे वह पवन शर्मा का फेसबुक एकाउंट है।

जब पवन शर्मा की फ्रेंड लिस्ट में जुड़े लोगों ने सवाल किये तो पवन शर्मा ने बतौर रजिया बानो बनकर जबाव में लिखा “जस्ट वेट एंड वाच डीयर”। मतलब पवन शर्मा ने समाज में ज़हर घोलने और मुसलमानो को बदनाम करने की नीयत से अपने फेसबुक प्रोफ़ाइल में असली नाम पवन शर्मा को बदलकर रजिया बानो कर दिया।

फेसबुक प्रोफाइल टटोलने पर पता चला कि पवन शर्मा ने अपने फेसबुक प्रोफाइल में संभवतः उस समय नाम बदला जब कैराना का लोकसभा उपचुनाव होना था। इस प्रोफाइल से कैराना चुनाव को लेकर भी एक पोस्ट शेयर की गयी थी। लेकिन पवन शर्मा दो कारण से मात खा गया। पहले उर्दू के शब्दों को लेकर और दूसरा नाम बदलने पर फेसबुक फ्रेंड्स के कमेंट्स को लेकर उसकी पोल खुल गयी।

लोकभारत आप सभी से निवेदन करता है कि सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों से सावधान रहें। किसी पोस्ट को देखकर या पढ़कर उसकी सच्चाई जाने बिना भावनात्मक रूप से न तो कोई कमेंट करें और न ही कोई प्रतिक्रिया दिखाएँ।

Input from ALTNEWS

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *