शरद पवार नहीं लड़ेंगे 2019 में लोकसभा चुनाव, ये है वजह

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। पार्टी के नेता जितेंद्र आव्हाड ने शनिवार को यह जानकारी दी।

पवार के पुणे लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने के कयासों पर विराम लगाते हुए आव्हाड ने बताया कि पवार ने 2014 में ही साफ कर दिया था कि वह अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे।

मुंबई-कुर्ला से राकांपा विधायक ने कहा कि पवार ने पार्टी से उनके नाम पर विचार नहीं करने को कहा, क्योंकि वह प्रत्याशी नहीं बनेंगे। शनिवार की बैठक में पवार ने कहा कि वह (लोकसभा चुनाव की) दौड़ में नहीं है इसलिए किसी को भी उनका नाम प्रस्तावित नहीं करना चाहिए।

आव्हाड ने इस बात से भी इनकार किया कि राकांपा प्रमुख ने मवाल लोकसभा सीट से पार्थ पवार की उम्मीदवारी का विरोध किया है। पार्थ पवार वरिष्ठ नेता अजित पवार के बेटे है।

आव्हाड ने कहा कि प्रारंभिक चर्चा जारी है. पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा के बाद नाम को अंतिम रूप दिया जायेगा। पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री पवार पार्टी की राज्य इकाई के दफ्तर में राकांपा के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के साथ अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों पर चर्चा के लिए पिछले दो दिन से बैठक कर रहे हैं। यह बैठक शनिवार सुबह शुरू हुई।

वहीँ दूसरी तरफ शरद पवार पार्टी कार्यकर्ताओं से लगातार मिल रहे हैं। इतना ही नहीं वे 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टी के प्रभारियों से उम्मीदवारों के चयन को लेकर भी विचार विमर्श कर रहे हैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें