शरद पवार के घर जुटे विपक्ष के दिग्गज, साझा न्यूनतम कार्यक्रम से काम करने का फैसला

नई दिल्ली। राष्ट्रवादी कांग्रेस सुप्रीमो शरद पवार के यहाँ बुधवार को विपक्ष के नेताओं का जमघट लगा। 2019 के लोकसभा चुनाव में विपक्षी एकता की राह आसान करने के लिए नेताओं के बीच बातचीत हुई। बैठक में विपक्ष के दिग्गजों ने आगामी आम चुनाव में बीजेपी को परास्त करने का संकल्प दोहराया।

इस बैठक में नेताओं ने लोकसभा चुनाव में भाजपा नीत एनडीए के खिलाफ लड़ने के लिए एक साझा न्यूनतम कार्यक्रम के साथ काम करने का निर्णय किया।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, शरद पवार के घर हुई विपक्षी दलों की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, फारूक अब्दुल्ला, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शामिल हुईं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि विपक्षी नेताओं ने एक साझा न्यूनतम कार्यक्रम बनाए जाने पर सहमति जतायी। उन्होंने कहा, ‘‘हम भाजपा को हराने के लिए साथ मिलकर काम करेंगे।’’

तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बैठक को ‘‘फलदायी’’ करार दिया और कहा कि ‘‘हम चुनाव पूर्व गठबंधन करेंगे।’’

तेदेपा प्रमुख एवं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि भारत को बचाने की एक लोकतांत्रिक मजबूरी है जबकि नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारुक अब्दुल्ला ने बैठक को ‘‘अच्छा’’ करार दिया। फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि देश में लोगों को जोड़ने वाली सरकार बननी चाहिए। देश को बचाने के लिए, जो भी कुर्बानी देनी पड़े हम देंगे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वार्ता को सकारात्मक बताया और कहा कि विपक्ष साथ मिलकर काम करेगा। यह बैठक इसका संकेत देती है कि कांग्रेस और आप गठबंधन कर सकती हैं। आप के 2015 में दिल्ली में सत्ता में आने के बाद से दोनों ही दल एक-दूसरे के कट्टर प्रतिद्वंद्वी रहे हैं।

इससे पहले दिल्ली के जंतर-मंतर पर हुई आप की रैली में कई विपक्षी दल शामिल हुए। इस रैली को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू, नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारूक अब्दुल्ला, राकांपा के शरद पवार और माकपा के सीताराम येचुरी ने भी संबोधित किया।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें