वीडियो:बीजेपी एमएलसी ने कहा “मुसलमान थे हनुमानजी, दिए ये तर्क’

लखनऊ ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा हनुमान जी की जाति का उल्लेख किये जाने से पैदा हुआ विवाद अभी समाप्त भी नहीं हुआ था कि अब बीजेपी एमएलसी बुक्कल नबाव ने हनुमानजी के धर्म को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है।

एएनआई न्यूज़ के मुताबिक बुकक्ल नबाव ने कहा कि “हमारा मानना है कि हनुमानजी मुसलमान थे, इसलिए मुसलमानो के अंदर नाम रखा जाता है रहमान , रमजान, फरमान, जीशान कुर्बान जितने भी नाम रखे जाते हैं करीब करीब उन्ही पर रखे जाते हैं। “

गौरतलब है कि इससे पहले राजस्थान विधानसभा चुनावो के दौरान अलवर की एक जनसभा में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने हनुमानजी की जाति का उल्लेख करते हुए उन्हें दलित बताया था।

योगी आदित्यनाथ द्वारा हनुमानजी की जाति का उल्लेख किये जाने के बाद यह सिलसिला थमा नहीं और मोदी सरकार में मंत्री सत्यपाल सिंह ने योगी आदित्यनाथ के बयान को गलत बताते हुए कहा कि हनुमानजी दलित नहीं थे बल्कि वे आर्य थे।

अपने दावे को पुख्ता करने के लिए सतपाल सिंह ने कहा कि राम और हनुमान के समय में जाति व्यवस्था नहीं थी और उस जमाने में वर्ण व्यवस्था थी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत वर्ष में सबसे पहले आर्य थे। इसलिए भगवान राम और हनुमान आर्य थे. सत्यपाल सिंह ने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने उन्हें दलित बताया है तो इस बारे मे वे कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते

योगी आदित्यनाथ द्वारा हनुमान जी दलित बताये जाने के बाद गुस्साई राजस्थान की ब्राह्मण परिषद ने जहाँ योगी आदित्यनाथ को कानूनी नोटिस भेजा वहीँ पूरे चुनाव में यह मुद्दा लगातार बीजेपी को परेशान करता रहा।

अब बीजेपी एमएलसी द्वारा हनुमान जी को मुसलमान बताये जाने से नया विवाद छिड़ सकता है। बता दें कि हनुमानजी की जाति विवाद में चुटकी लेते हुए पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के पूर्व केबिनेट मंत्री आज़म खान ने कहा था कि योगी आदित्यनाथ को इतिहास का बहुत अच्छा ज्ञान है। आज़म खान ने कहा था कि लोकसभा चुनाव आने तक बीजेपी हनुमानजी को मुसलमान भी घोषित कर सकती है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें