लालू के खिलाफ आया फैसला तो कोर्ट के बाहर रोने लगे समर्थक

रांची। चारा घोटाले में सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा अपने फैसले में राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिए जाने के बाद उनके समर्थको की आँखों में आंसू छलक पड़े।

कोर्ट परिसर में सैकड़ो की तादाद में जमा हुए लालू समर्थको को उम्मीद थी कि आज लालू प्रसाद यादव को इस मामले में बरी कर दिया जाएगा। लेकिन जब यह खबर आयी कि चारा घोटाले में लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया गया है और उन्हें न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेज दिया जाएगा तो उनके समर्थको में सन्नाटा पसर गया।

इस दौरान कई समर्थक रोने लगे। उन्होंने लालू यादव को निर्दोष बताते हुए कहा कि वे गरीबो और कमज़ोर लोगों के लिए लड़ाई लड़े हैं। उनके साथ हज़ारो लाखो लोगों की दुआएं हैं। कई समर्थको को कोर्ट के फैसले की खबर पर भरोसा नहीं हुआ। इसलिए वे इधर उधर दौड़कर सच्चाई जानने की कोशिश करते दिखे।

बता दें कि बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाले के देवघर कोषागार से अवैध तरीके से पैसे की निकासी के मामले में राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया गया है।

इस मामले में 03 तारीख को सजा का एलान किया जाएगा। सीबीआई की विशेष कोर्ट ने 22 आरोपियों में से 06 लोगों को बरी कर दिया। इनमे दो महिलाएं भी शामिल हैं।

इस मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव सहित कुल 22 लोग आरोपी थे। फैसले के मद्देनजर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव कल शाम को रांची पहुँच गए थे। कोर्ट द्वारा फैसला दिए जाने के बाद लालू प्रसाद यादव को न्यायिक हिरासत में ले लिया गया और उन्हें रांची जेल भेजा जाएगा।

इस मामले में सजा का एलान 03 तारीख को होगा। तब तक लालू प्रसाद यादव जेल में ही रहेंगे। सजा का एलान होने के बाद ही लालू प्रसाद यादव हाईकोर्ट में इस फैसले को चुनौती देते हुए ज़मानत अर्जी दाखिल कर सकेंगे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें