लव जिहाद के नाम पर विवाह समारोह में हंगामा करने वाले बीजेपी अध्यक्ष नपे

नई दिल्ली। गाज़ियाबाद में पिछले दिनों एक मुस्लिम डॉक्टर और हिन्दू मैनेजमेंट प्रोफेशनल के विवाह के दौरान लव जिहाद का नाम लेकर विवाह समारोह में भीड़ लेकर बवाल करने वाले गाज़ियाबाद के बीजेपी महानगर अध्यक्ष को हटा दिया गया है।

यह विवाह दोनो परिवारों की मौजूदगी में सहमति से हो रहा था लेकिन गाज़ियाबाद महानगर बीजेपी अध्यक्ष अजय शर्मा हिन्दू संगठनों के कुछ लोगों के साथ भीड़ लेकर विवाह समरोह में पहुंचे थे। जहाँ उन्होंने विवाह रुकवाने के लिए बवाल किया। बाद में पुलिस ने पहुंचकर वहां से भीड़ को खदेड़ कर बाहर निकाला।

इतना ही नहीं विवाह होने की भनक लगने पर बीजेपी महानगर अध्यक्ष ने लड़की के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें धमकाया था तथा मुस्लिम लड़के के साथ विवाह न करने की धमकी भी दी थी। इस पर लड़की के चाचा ने कहा था कि विवाह दोनो पक्षों की सहमति से हो रहा है और लड़का हिन्दू रीति से भी विवाह करने को तैयार था लेकिन लड़की ने निकाह करना पसंद किया।

यह मामला 22 दिसंबर का है जब विवाह के दिन बीजेपी अध्यक्ष भीड़ के साथ विवाह स्थल पर पहुँच गए और उनके साथ गए लोगों ने विवाह स्थल पर जमकर बवाल काटा। मंगलवार देर रात प्रदेश भाजपा अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय के निर्देश पर भाजपा महानगर अध्यक्ष को कार्यमुक्त कर दिया गया। खुद भाजपा नेताओँ ने उनके लव जिहाद के हंगामे को गलत ठहराते हुए कहा कि अति सक्रियता भी ठीक नहीं रहती।

मामला हाई प्रोफाइल था और दिल्ली के करीब था तो बाद ऊपर तक पहुंच गई और महानगर अध्यक्ष को हटते देर नहीं लगी। इस मामले में पुलिस ने हंगामा करने और सरकारी काम में बाधा का मामला भी दर्ज किया था जिसमें जल्द ही गिरफ्तारी भी हो सकती है। यह कार्रवाई कर पार्टी ने यह संदेश भी देने की कोशिश की है कि सरकार की छवि पर पड़ने वाले असर को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। एक भाजपा नेता ने कहा कि पार्टी नेताओं को समझना होगा कि वह विपक्ष में नहीं है और कोई भी कदम जिम्मेदारी के साथ उठाना होगा।

बता दें कि गाजियाबाद के राजनगर में रहने वाले पूर्व डीएम की डाक्टर पोती की शादी एक गैर हिंदू समुदाय युवक से हुई जिसमें दोनों परिवारों की रजामंदी थी। 22 दिसम्बर को लड़की के घर गेट टू गेदर था। इनके खिलाफ शिवसेना, हिंदू रक्षादल समेत अन्य हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं प्रदर्शन करने पहुंच गए और लव जिहाद का नारा लगाने लगे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *