रेप आरोपियों के समर्थन में निकाली गयी रैली में शामिल हुए थे बीजेपी के दो मंत्री

नई दिल्ली। कठुआ में एक बच्ची के रेप और हत्या मामले में गिरफ्तार किये गए एक आरोपी पुलिस अधिकारी को रिहा किये जाने की मांग को लेकर निकाली गयी रैली में जम्मू कश्मीर सरकार में शामिल भारतीय जनता पार्टी के दो मंत्री भी शरीक हुए थे।

इस रैली में आरोपियों के समर्थन कथित रूप से भारत माता की जय के नारे भी लगाए गए थे। इस रैली में शामिल हुए बीजेपी के मत्रियों में वनमंत्री चौधरी लाल सिंह तथा वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री चंदर प्रकाश गंगा शामिल हैं।

हिंदू एकता मंच द्वारा आयोजित यह रैली रेप आरोपियों के समर्थन में निकाली गयी थी। हिंदू एकता मंच कठुआ रेप व मर्डर केस में हुई गिरफ्तारियों का विरोध कर रहा है।

इस रैली में शामिल हुए दोनों मंत्रियों ने भी रैली को संबोधित किया था और गिरफ्तारियों को जंगल राज का नतीजा बताया था। चंदर प्रकाश गंगा ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, “मुझे समझ नहीं आता कि उन्होंने 14 साल, 22 साल, 28 साल व 37 साल के लोगों को क्यों गिरफ्तार किया? यह कैसे संभव है?”

रैली में मौजूद बीजेपी के एक और मंत्री चौधरी लाल सिंह ने भी अपने भाषण में गिरफ्तार किये गए रेप आरोपियों का कथित तौर पर समर्थन किया था। उन्होंने अपने भाषण में कहा कि “यदि आप आंदोलन करते हैं तो इसे पूरे मन से करें नहीं तो घर पर बैठें। यह धारा 144 क्या है? एक लड़की मरी है और उसके लिए इतनी जांच ? यहां बहुत सी औरतों की मौते होती रही हैं।”

यहाँ एक अहम सवाल यह उठता है कि आखिर क्यों बीजेपी नेता रेप आरोपियों का समर्थन कर रहे हैं ? बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की बात करने वाली बीजेपी के मंत्री रेप आरपियों के समर्थन में निकाली गयी रैली में क्यों शामिल हुए ?

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें