रेणुका चौधरी का पलटवार: पीएम ने मुझ पर निजी टिप्पणी की, अगर सदन के बाहर होते तो…..

नई दिल्ली। राष्ट्र्पति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर उच्च सदन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के दौरान कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी के हंसने के बाद पीएम मोदी द्वारा रेणुका चौधरी पर की गयी टिप्पणी को लेकर राजनीति गर्म हो गयी है।

कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी ने पीएम मोदी द्वारा की गयी टिप्पणी को लेकर पलटवार करते हुए कहा कि पीएम मोदी ने मुझ पर निजी टिप्पणी की है। यदि वे सदन के बाहर होते तो उन पर कानून लागू हो जाता।

रेणुका चौधरी ने कहा कि महिलाओं को बदनाम करना एक अपराध है। वैसे भी मैं उन्हें जवाब देने के लिए उस स्तर तक नहीं गिर सकती हूं। उन्होंने अपने हंसने की वजह बताते हुए कहा कि ‘मेरे पास सुबूत है जहां देश के प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस आधार कार्ड को लेकर नाच रही है। उन्होंने आधार कार्ड के खिलाफ पब्लिक में लंबा-चौड़ा बोला था।’

रेणुका चौधरी ने कहा कि ‘अब पीएम मोदी आज बता रहे हैं कि आधार कार्ड का बीज उस वक्त बोया गया था जब आडवाणी जी थे। मुझे इस बात पर हैरानी के साथ हंसी आ गई थी, क्योंकि वह 360 डिग्री पर मुकर जाते हैं। मैंने पहली बार ऐसा देखा…वह भी देश के प्रधानमंत्री को।’

क्या था मामला:

बुधवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर पीएम मोदी उच्च सदन में बयान दे रहे थे। उसी वक्त रेणुका चौधरी हंस पड़ी थीं। प्रधानमंत्री के वक्तव्य के दौरान रेणुका चौधरी के ठहाका लगाकर हंसने से सभापति और उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू बेहद नाराज हो गए थे।

उन्होंने पीएम मोदी को बीच में रोकते हुए कहा था कि उनके इस व्यवहार को कतई संसदीय नहीं कहा जा सकता है। इस पर प्रधानमंत्री हस्तक्षेप करते हुए कहा था, ‘सभापति जी, मेरी आपसे विनती है कि आप रेणुका जी को कुछ मत कहिए। रामायण सीरियल के बाद पहली बार ऐसी हंसी सुनने का सौभाग्य आज जाके मिला है।’

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *