चुनाव

राहुल गांधी के सॉफ्ट हिंदुत्व से बेचैन बीजेपी, राहुल बोले ‘शिव का भक्त हूँ’

अहमदाबाद। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा गुजरात नवसर्जन यात्रा के दौरान मंदिरों में दर्शन करने पर बीजेपी खासी बेचैन नज़र आ रही है। यही कारण है कि बीजेपी उनके मंदिरों में जाने पर भी सवाल उठा रही है।

गुजरात में कांग्रेस द्वारा शुरू की गयी गुजरात नवसर्जन यात्रा के मार्ग में जो भी प्रख्यात मंदिर आया, राहुल वहां वहां गए। मंदिर में न सिर्फ दर्शन किये बल्कि प्रसाद और आशीर्वाद भी ग्रहण किया।

इतना ही नही राहुल गांधी ने मेहसाणा के विसनगर में जय सरकार, जय भवानी और जय माता दी के नारे भी लगवाए। राहुल गांधी ने मंच से नारे लगाए और सभा में मौजूद भीड़ ने नारों को तेज आवाज़ में दोहरा कर राहुल गांधी के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया। संभवतः यह पहला अवसर है जब कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने किसी मंच से धार्मिक नारे लगवाए हों।

कांग्रेस के इस सॉफ्ट हिंदुत्व से बीजेपी के माथे पर चिंता की लकीरें साफ़ देखी जा सकती हैं। वहीँ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बीजेपी को उसी के तरीके से पटखनी देने में लगे हैं। सॉफ्ट हिंदुत्व के ज़रिये राहुल गांधी ने यह जता दिया कि वे नास्तिक नही हैं जैसा बीजेपी उनके बारे में दुष्प्रचार करती रही है।

बीजेपी ने राहुल के विभिन्न मंदिरों में जाने को हिन्दू मतदाताओं को आकर्षित करने का प्रयास बताया है। जिसका कांग्रेस ने ज़ोरदार जबाव देते हुए कहा कि बीजेपी का ‘भक्ति पर पेटेंट’ नहीं है।

मंदिरों की अपनी यात्रा को लेकर बीजेपी की तरफ से की जा रही आलोचना के बारे में पूछे जाने पर राहुल ने कहा, ‘‘मैं भगवान शिव का भक्त हूं। वे जो कुछ भी कहना चाहते हैं उन्हें कहने दीजिए। मेरी सच्चाई मेरे साथ है।’’ माना जा रहा है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने इस बयान के ज़रिये बीजेपी के एक अहम हथियार को ध्वस्त कर दिया है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Facebook

Copyright © 2017 Lokbharat.in, Managed by Live Media Network

To Top