रालोद अध्यक्ष अजीत सिंह नहीं लड़ेंगे 2019 का लोकसभा चुनाव

नई दिल्ली। राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी अजीत सिंह 2019 में लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। चौधरी अजीत सिंह ने अपनी उम्र का हवाला देते हुए कहा कि वे 2019 में लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे।

2019 में लोकसभा चुनाव लड़ने में असमर्थता ज़ाहिर करते हुए चौधरी अजीत सिंह ने अपनी उम्र का हवाला देते हुए कहा कि अब मैं 80 वर्ष का हो गया हूँ। ऐसे में अब और चुनाव लड़ना सम्भव नहीं है।

महागठबंधन के मुद्दे पर चौधरी अजीत सिंह ने कहा कि मिलकर चुनाव लड़ना विपक्षी दलों की मजबूरी है। उन्होंने कहा कि यदि विपक्ष एकजुट नहीं होगा तो बीजेपी को आसानी से हराना मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि यदि कोई दल अकेले चुनाव लड़ेगा तो वह हाशिये पर चला जाएगा और समाप्त हो जाएगा।

अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा पीएम मोदी को गले लगने के मामले में चौधरी अजीत सिंह ने कहा कि पीएम मोदी राहुल गांधी के सवालो का जबाव नहीं दे पाए। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने अविश्वास प्रस्ताव के दौरान ही हार मान ली है।

बता दें कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और किसान नेता चौधरी चरण सिंह की राजनैतिक विरासत को उनके पुत्र चौधरी अजीत सिंह ने संभाला था। अजीत सिंह सबसे पहले 1986 में राज्य सभा सांसद बने थे।

चौधरी अजीत सिंह इसके बाद 1991,1996, 1999 2004 और 2009 में भी वे बागपत से लोकसभा चुनाव जीतकर सांसद बने। वहीँ 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। 2014 में चौधरी अजीत सिंह की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल एक भी सीट नहीं जीत सकी। यहाँ तक कि चौधरी अजीत सिंह के पुत्र जयंत चौधरी में 2014 में मथुरा संसदीय क्षेत्र से चुनाव हार गए।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *