राफेल पेपर्स: अटर्नी जनरल का यू टर्न, कहा ‘चोरी नहीं फोटो कॉपी हुए पेपर’

नई दिल्ली। राफेल मामले में सुप्रीमकोर्ट में राफेल डील से जुड़े पेपर्स चोरी होने की बात कहने वाले अटर्नी जनरल के के वेणुगोपाल ने अपने कहे से यूटर्न लेते हुए अब कहा है कि राफेल डील से जुड़े पेपर्स चोरी नहीं हुए बल्कि उनकी फोटो कॉपी की गयी है।

इससे पहले बुधवार को वेणुगोपाल ने राफेल डील पर पुनर्विचार याचिका की सुनवाई के दौरान कहा था कि राफेल लड़ाकू विमान के सौदे के दस्तावेज चुरा लिये गये हैं। एटर्नी जनरल के बयान के बाद विपक्ष सरकार पर हमलावर हो गया था और इससे सरकार की किरकिरी हुई थी और विपक्ष ने पूरे प्रकरण की जांच की मांग की थी।

राफेल डील से जुड़े पेपर्स चोरी होने की बात सामने आने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ मुकदमा चलाये जाने के लिए पर्याप्त सबूत मौजूद हैं।

सरकार की किरकिरी होने के बाद वेणुगोपाल ने शुक्रवार को कहा, ”मुझे बताया गया कि विपक्ष ने आरोप लगाया है कि (सुप्रीम कोर्ट में) दलील दी गई कि फाइलें रक्षा मंत्रालय से चोरी हो गईं। यह पूरी तरह से गलत है। यह बयान कि फाइलें चोरी हो गई हैं, पूरी तरह से गलत है।”

वेणुगोपाल ने कहा कि राफेल सौदे की जांच का अनुरोध ठुकराने के शीर्ष अदालत के आदेश पर पुनर्विचार की मांग वाली यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और प्रशांत भूषण की याचिका में ऐसे तीन दस्तावेजों को नत्थी किया गया है जो असली दस्तावेजों की फोटो कॉपी हैं।

अटर्नी जनरल ने बचाव करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट में उनकी बात का मतलब यह था कि याचिकाकर्ताओं ने आवेदन में उन मूल कागजात की फोटोकॉपियों का इस्तेमाल किया जिसे सरकार ने गोपनीय माना है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
loading...