राज ठाकरे ने पीएम मोदी को बताया ‘दुनिया का सबसे बड़ा फेंकू’

मुंबई। महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे ने एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी का नाम लेकर खरी खोटी सुनाई हैं। ठाकरे ने पीएम नरेंद्र मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा फेंकू बताते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनने का दावा किया।

हिंदी नव वर्ष के अवसर पर मनाए जाने वाले त्योहार गुड़ी पड़वा के दिन मुंबई के शिवाजी पार्क में अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा कि पीएम मोदी के पास जनादेश नहीं है, वो 2014 में मिला जनादेश खो चुके हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने विकास के कोई कार्य नहीं किए, पिछले पांच साल केवल कांग्रेस के समय शुरू की गई योजनाओं के नाम बदलने में निकाल दिए।

राज ठाकरे ने पाकिस्तान के एक एफ-16 विमान को मार गिराने के दावे पर भी सवाल उठाए। उन्होंने अमेरिका के एक बयान का जिक्र करते हुए कहा कि पाकिस्तान के बेड़े में शामिल सभी एफ-16 विमानों का हिसाब है जबकि भारत सरकार का दावा है कि बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के एक एफ-16 विमान को मार गिराया गया था। ठाकरे ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी ने झूठ क्यों बोला? इस पर उन्हें जवाब देना चाहिए।

एमएनएस प्रमुख ने कहा कि पीएम मोदी को इतना बड़ा अवसर मिला था लेकिन वो कुछ कर नहीं पाए। उन्होंने मोदी सरकार से पूछा कि, आपने पांच साल में क्या किया?’ राज ठाकरे ने पीएम मोदी पर पिछले पांच साल के शासन में हर चीज का झूठ का प्रचार करने के भी आरोप लगाए।

उन्होंने कहा कि एयर स्ट्राइक से लेकर अच्छे दिन, खाते में 15 लाख रुपए देने, विकास, रोजगार, नोटबंदी, मेक इन इंडिया जैसी नीतियों और वादों का सिर्फ झूठा प्रचार किया गया। जनता को कुछ हासिल नहीं हुआ।

राज ठाकरे ने कहा कि राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनने का अवसर मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस तरह से मोदी को पीएम बनने का मौका दिया गया, राहुल गांधी को भी दिया जाना चाहिए। राहुल गांधी देश के लिए बेहतर कर सकते हैं। राज ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओं से कांग्रेस की अगुवाई में महागठबंधन का समर्थन करने की अपील भी की।

ठाकरे ने मोदी सरकार की नीतियों पर सवाल उठाते हुए कहा कि नोटबंदी के दौरान लोगों को घंटो कतार में खड़ा रहना पड़ा, 100 से ज्यादा लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी। नोटबंदी की वजह से 4.50 करोड़ लोगों को नौकरी चली गई।

राज ठाकरे ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता और संस्थापक सदस्य रहे लालकृष्ण आडवाणी को दरकिनार करने पर भी सवाल उठाए। उन्होंने इसके लिए पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को जिम्मेदार ठहरते हुए उनकी निंदा भी की।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
Loading...