राज्यसभा उपसभापति के चुनाव के लिए उम्मीदवार के नाम को लेकर एनडीए में फूट

नई दिल्ली। राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए एनडीए ने जनतादल यूनाइटेड के राज्य सभा सांसद हरिवंश नारायण सिंह को उम्मीदवार घोषित किया है लेकिन उम्मीदवार का नाम घोषित होने के बाद एनडीए में फूट पड़ गयी है। एनडीए में सहयोगी अकाली दल को हरिवंश नारायण सिंह को उम्मीदवार बनाये जाने पर एतराज है।

वहीँ दूसरी तरफ शिवसेना ने इस बात को लेकर नाराज़गी जताई है कि उपसभापति के लिए एनडीए का उम्मीदवार घोषित करने से पहले उससे सलाह मशविरा नहीं किया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आज अकाली दल नेता और पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखवीर सिंह बादल की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के घर पर एक बैठक आयोजित की गयी।

इस बैठक में उपसभापति पद के चुनाव के लिए जनतादल यूनाइटेड के राज्य सभा सांसद को उम्मीदावर बनाये जाने को लेकर चर्चा हुई। इतना ही नहीं बादल सुखवीर सिंह बादल ने मंगलवार सुबह एक बार फिर से अपनी पार्टी के संसदीय दल की बैठक बुलाई हैं। इस बैठक में पार्टी इस संबंध में बड़ा फैसला ले सकती है।

वहीँ दूसरी तरफ राज्य सभा के उपसभापति पद के चुनाव के लिए विपक्ष भी कमर कस रहा है। विपक्ष संयुक्त उम्मीदवार के तौर पर टीडीपी या टीएमसी के किसी राज्य सभा सांसद को उम्मीदवार बना सकता है।

वहीँ सूत्रों की माने तो कांग्रेस की पहली पसंद ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी है। कांग्रेस चाहती है कि ममता बनर्जी की पार्टी से ही उम्मीदवार का नाम निकलकर सामने आये।

बता दें कि राज्यसभा के उपसभापति पीजे कुरियन का कार्यकाल इस साल के जून के महीने में पूरा हो गया। राज्यसभा के सभापति ने इस मॉनसून सत्र में चुनाव कराने की घोषणा की है। सत्र 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है। ऐसे में उपसभापति के चुनाव के लिए 9 अगस्त का दिन तय किया गया है। राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने सोमवार को सदन को बताया कि 9 अगस्त सुबह 11 बजे उपसभापति पद के लिए चुनाव होगा।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *