राजस्थान में कल होगा लोकसभा की दो और विधानसभा की एक सीट के उपचुनाव के लिए मतदान

जयपुर ब्यूरो। राजस्थान में कल लोकसभा की दो लोकसभा की अजमेर और अलवर तथा विधानसभा की एक सीट मांडलगढ़ में उपचुनाव के लिए मतदान होगा। पहली बार मतदान के लिए उम्मीदवारों की तस्वीरों के साथ ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल होगा। मतदान सुबह आठ बजे से शाम छह बजे तक चलेगा।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्विनी भगत ने कहा, ‘‘समान नाम वाले अलग-अलग उम्मीदवारों को लेकर मतदाताओं में भ्रम से बचने के लिए पहली बार ईवीएम मशीनों पर उम्मीदवारों की तस्वीर लगाई जा रही है।’’

उन्होंने कहा कि तीनों निर्वाचन क्षेत्र में 3802168 मतदाता हैं और उपचुनाव के लिए तैयारियों पूरी हो चुकी है। अलवर में 11 , अजमेर में 23 और मंडलगढ़ में आठ उम्मीदवार मैदान में किस्मत आजमा रहे हैं।

वर्ष 2014 में अलवर और अजमेर दोनो लोकसभा सीटों पर बीजेपी उम्मीदवार विजयी हुए थे लेकिन अजमेर के सांसद रहे सांवर लाल जाट का बीमारी के बाद 9 अगस्त 2017 को दिल्ली के एम्स में निधन हो गया था। अलवर से बीजेपी के सांसद महंत चांद नाथ भी असमय मौत का शिकार हुए थे। दिल्ली में 17 अगस्त 2017 को उनकी मौत हो गई थी। इनके निधन के बाद ये दोनों सीटें खाली पड़ी हुईं थी। वहीँ मांडलगढ़ विधानसभा सीट भी बीजेपी के पास ही थी और यहाँ से भाजपा विधायक कीर्ति कुमारी के आकस्मित निधन के कारण खाली हुई है।

बीजेपी ने अलवर लोकसभा सीट से श्रम मंत्री जसवंत सिंह यादव को और अजमेर सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री सांवरलाल जाट के बेटे रामस्वरूप लांबा को उम्मीदवार घोषित किया है। हीं पार्टी ने भीलवाड़ा जिले के मांडलगढ़ विधानसभा से शक्ति सिंह हाडा को चुनाव मैदान में उतारा है।

दूसरी तरफ कांग्रेस ने अजमेर से पूर्व विधायक रघु शर्मा और अजमेर से डा कर्ण सिंह यादव को उम्मीदवार बनाया है। वहीँ मांडलगढ़ विधानसभा सीट के लिए कांग्रेस ने विवेक धाकड को उम्मीदवार बनाया है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें