राजस्थान: निकाय उपचुनावों में भी दिखा कांग्रेस का दम

जयपुर। राजस्थान में हाल ही में हुए दो लोकसभा सीटों और एक विधानसभा सीट पर बीजेपी के सफाये के बाद अब कांग्रेस ने पंचायती राज और स्‍थानीय निकाय उपचुनावों में भी अपना दम दिखाया है। पार्टी ने 21 सीटों में से 12 सीटों पर कब्ज़ा जमा लिया है जबकि राज्य में बीजेपी को 8 सीटें ही मिली हैं।

राजस्‍थान के 21 जिलों में 6 मार्च को हुए उपचुनावों में कांग्रेस को बड़ी जीत हासिल हुई है। जिला परिषद की छह सीटों के लिए उपचुनाव हुए थे, जिनके परिणाम सामने आ गए हैं। कांग्रेस ने इनमें से चार पर कब्‍जा कर लिया है। वहीं, बीजेपी और निर्दलीय के हिस्‍से सिर्फ एक-एक सीटें गई हैं।

पंचायत समिति की 21 सीटों में से विपक्षी पार्टी ने 12 पर जीत हासिल की, जबकि भाजपा को 8 और निर्दलीय को एक सीट पर जीत नसीब हुई। नगरपालिका चुनाव में भी कांग्रेस का दबदबा रहा है। पार्टी ने छह में से चार सीट पर कब्‍जा कर लिया। भाजपा के हिस्‍से सिर्फ दो नगरपालिका की सीट आई।

कांग्रेस ने अजमेर, झुंझनूं, सिरोही और टोंक नगरपालिका सीट पर कब्‍जा कर लिया। वहीं, भजापा ने धौलपुर की दोनों सीटें जीत ली हैं। बता दें कि इससे पहले अजमेर, अलवर (दोनों लोकसभा सीट) और मांडलगढ़ (विधानसभा) सीटों के लिए उपचुनाव हुए थे। कांग्रेस ने सभी पर कब्‍जा कर लिया था।

कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट के नेतृत्व में पार्टी को ये दूसरी बड़ी सफलता हासिल हुई है। पायलट ने पंचायती राज और स्‍थानीय निकाय उपचुनावों में कांग्रेस को मिले जनसमर्थन के लिए प्रदेशवासियों का आभार व्यक्त किया है।

वहीँ जानकारों की माने तो स्थानीय निकायों के चुनाव परिणाम बीजेपी के लिए बड़े खतरे की घंटी है। राजस्थान में इस वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं। हाल ही में हुए उपचुनावों में भी बीजेपी को तीनो सीटों पर पराजय का सामना करना पड़ा था।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें