यूपी: कांग्रेस को बड़ी सफलता, दो बार के BJP विधायक एवं आईपीएस कांग्रेस में शामिल

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावो की तैयारियों में जुटी कांग्रेस को आज उत्तर प्रदेश में बड़ी सफलता मिली है। भारतीय जनता पार्टी के दो बार विधायक रहे जेपी सिंह और आईपीएस कुश सौरभ ने वीआरएस लेकर आज कांग्रेस का हाथ थाम लिया।

कांग्रेस के यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद, प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर, कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी की मौजूदगी में जेपी सिंह और कुश सौरभ कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए हैं। माना जा रहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस इन दोनों नेताओं को अपने उम्मीदवार के तौर पर चुनावी मैदान में उतार सकती है।

कुश सौरभ गोरखपुर के रहने वाले हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि पार्टी उन्हें पूर्वांचल की किसी भी सीट से चुनाव लड़ा सकती है जबकि जेपी सिंह मुरादाबाद से हैं और दो बार के बीजेपी विधायक रह चुके हैं।

मीडिया से बात करते हुए एक सवाल के जवाब में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद पता चलेगा कि कौन सी पार्टी प्रदेश में कमजोर है और कौन सी मजबूत। अभी हमारा फोकस सूबे में मजबूती के साथ चुनाव लड़ना है। 2019 के चुनाव में कांग्रेस बीजेपी को कड़ी टक्कर देगी।

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सांसद राजबब्बर, प्रदेश के कांग्रेस प्रभारी गुलामनबी आज़ाद, सांसद प्रमोद तिवारी, डा संजय सिंह आदि मौजूद थे।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में सपा बसपा गठबंधन होने के बाद कांग्रेस ने राज्य की सभी 80 सीटों पर अकेले दम पर लोकसभा चुनाव लड़ने का एलान किया है। स्वयं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस बात को कह चुके हैं कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अपने दम पर सभी सीटों पर मजबूती के साथ चुनाव लड़ेगी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें