यूँ हुई किरकिरी: श्री श्री के कार्यक्रम में आज़ादी के नारे लगाकर पब्लिक गायब

नई दिल्ली। कश्मीर में पैगाम ए मोहब्बत नामक कार्यक्रम में आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर को भी आमंत्रित किया गया था। इस कार्यक्रम में जैसे ही श्री श्री रविशंकर ने बोलना शुरू किया तो वहां मौजूद लोगों ने आज़ादी के नारे लगाना शुरू कर दिया और कुछ ही देर में कार्यक्रम स्थल से पब्लिक नारे लगाती हुई निकल गयी।

आज़ादी के नारो के बीच श्री श्री रविशंकर को अपना भाषण शुरू करने के मिनटों भीतर ही अपना भाषण बीच में ही रोकना पड़ा। जिससे पहले कि श्री श्री रविशंकर अपना भाषण पूरा कर पाते वहां से पब्लिक नदारद हो गयी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार श्रीनगर स्थित शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कांफ्रेंस सेंटर में आयोजित पैगाम ए मोहब्बत कार्यक्रम में आयोजकों ने श्री श्री रविशकर सहित कई लोगों को आमंत्रित किया गया था। लेकिन जैसे ही श्री श्री रवि शंकर ने बोलना शुरू किया तो कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने जबाव में आज़ादी के नारे लगाकर उनका विरोध किया।

गौरतलब है कि श्री श्री रविशंकर ने हाल ही में एक टीवी चैनल पर डिबेट में भाग लेते हुए कहा था कि अगर अयोध्या में राम मंदिर बनाने में किसी प्रकार की भी देरी की गई तो देश में सीरिया सरीखी स्थिति पैदा हो सकती है। अयोध्या मुस्लिमों का धार्मिक स्थल नहीं है। मुस्लिमों को इस पर अपना दावा छोड़ कर नजीर पेश करनी चाहिए।

कश्मीर की पत्रकार नवीद इकबाल ने ट्विटर पर इस कार्यक्रम की कुछ तस्वीरें साझा करते हुए श्री श्री के बोलने पर लोगों द्वारा आज़ादी के नारे लगाए जाने और कार्यक्रम स्थल से चले जाने की बात लिखी है।

Share

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें