यशवंत सिन्हा बोले “देश में अघोषित आपातकाल, राजनीति में भी घोला जा रहा ज़हर”

पणजी। पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी और मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। बुद्धिजीवियों के समूह ‘सिटीजंस फॉर डेमोक्रेसी’ को ‘भारतीय अर्थव्यवस्था और लोकतंत्र के सामने मौजूद चुनौतियां ‘ विषय पर संबोधित करते हुए यशवंत सिन्हा ने कहा कि देश में अघोषित इमरजेंसी है।

सिन्हा ने कहा कि मौजूदा अघोषित आपातकाल के उलट 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाया गया आपातकाल राजनीति प्रवृत्ति का था। उन्होंने कहा कि हम इस समय जिस आपातकाल का सामना कर रहे हैं, वह अघोषित आपातकाल है। यह एक धीमा जहर है, जो देश की राजनीति में घोला जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जब हम विपक्ष में थे, तब हम तत्कालीन यूपीए सरकार पर टैक्स टेरेरिज्म में लिप्त होने का आरोप लगाया करते थे। हमने वादा किया था कि सत्ता में आने के बाद इसे खत्म कर देंगे।

सिन्हा ने कहा कि इंदिरा गांधी का आपातकाल मौजूदा आपातकाल से अलग है. एक दिन उन्होंने देश में आपातकाल लगाने की घोषणा कर दी और विपक्ष के लोगों को जेल में डाल दिया गया। इसके साथ ही, मीडिया पर पाबंदी लगा दी गयी।

उन्होंने जो कदम उठाये थे, वे राजनीतिक प्रवृत्ति के थे। उन्होंने कहा कि हम इस समय जिस आपातकाल का सामना कर रहे हैं, वह अघोषित आपातकाल है। यह एक धीमा जहर है, जो देश की राजनीति में घोला जा रहा है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *