मैं नालायक बेटे का लायक बाप : यशवंत सिन्हा

नई दिल्ली। झारखण्ड के रामगढ मॉब लींचिंग के आरोपियों को हाईकोर्ट से ज़मानत मिलने पर केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा द्वारा आरोपियों को माला पहनाने और मिठाई खिलाकर स्वागत किये जाने पर जयंत सिन्हा की सफाई के बाद उनके पिता यशवंत सिन्हा ने बड़ा बयान दिया है।

यशवंत सिन्हा ने कहा कि पहले वह ‘लायक’ बेटा के ‘नालायक’ बाप थे, लेकिन अब स्थिति उलट गयी है। ट्विटर पर यशवंत सिन्हा ने अपने ट्वीट में कहा कि वह अपने पुत्र की करतूत को सही नहीं ठहरात।

सिन्हा ने अपने ट्वीट में कहा कि पहले मैं लायक बेटा का नालायक बाप था। अब भूमिका बदल गयी है। यह ट्विटर है, मैं अपने बेटे की करतूत को सही नहीं ठहराता, लेकिन मैं जानता हूं कि इससे और गाली-गलौज होगी। आप कभी नहीं जीत सकते।

गौरतलब है कि यशवंत ने हाल में भाजपा से इस्तीफा दे दिया है। वे अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री भी रहे थे। नरेंद्र मोदी सरकार से मोह भंग होने के बाद वे कई मौको पर मोदी सरकार की सार्वजनिक रूप से आलोचना करते रहे हैं।

पिछले साल रामगढ़ में एक मीट कारोबारी मोहम्मद अलीमुद्दीन की भीड़ ने गोहत्या के शक में पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इस मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने इसी साल मार्च महीने में 11 लोगों को दोषी करार दिया था, लेकिन पिछले हफ्ते रांची हाई कोर्ट ने उनमें से 8 की उम्रकैद की सजा पर रोक लगाकर जमानत पर रिहा कर दिया।

जमानत के बाद मॉब लिन्चिंग के आरोपी नागरिक उड्डयन मंत्री जयंत सिन्हा के हजारीबाग स्थित आवास पहुंचे थे। यहां जयंत ने माला पहनाकर उनका स्वागत किया और मिठाई भी खिलायी थी।

मॉब लिन्चिंग के आरोपियों को माला पहनाने और लडडू खिलाने पर चौतरफा आलोचनाओं से घिरे केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने सफाई भी दी थी। जयंत सिन्हा ने कहा कि कानून अपना काम करेगा। जो आरोपी हैं, उन्हें सजा मिलेगी और जो निर्दोष होंगे, वह मुक्त होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि किसी को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें