मुस्लिम व्यक्ति की ह्त्या: अभी कोई गिरफ्तारी नहीं, वसुंधरा सरकार की नीयत पर उठे सवाल

जयपुर। राजस्थान के प्रतापगढ़ में शौंच कर रही महिलाओं की तस्वीरें खींचने वाली स्वच्छ भारत अभियान की टीम के किसी भी सदस्य की गिरफ़्तारी न होने पर मृतक के परिजनों में बेहद नाराज़गी है। कल स्वच्छ भारत अभियान की टीम को महिलाओं के फोटो खींचने से रोकने पर टीम के सदस्यों ने ज़फर खान नामक व्यक्ति को पीट पीट कर मार डाला था।

परिजनों का आरोप है कि प्रदेश सरकार के दबाव के चलते स्थानीय पुलिस गुनाहगारो को बचाने की कोशिश कर रही है। वहीँ कच्ची बस्ती के लोगों ने इस मामले में जल्द ठोस कार्यवाही न होने की दशा में हाइवे जाम करने की चेतावनी दी है।

इस मामले में पुलिस ने एक दिन पहले पांच लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करते हुए कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया था। स्थानीय लोगों का आरोप है कि इस इलाके में न तो कोई पब्लिक टायलेट है और न ही निजी टायलेट बनाने के लिए कोई सरकारी सुविधा उपलब्ध करायी गयी। यही कारण है कि स्थानीय लोगों को खुले में शौच के लिए जाना पड़ता है।

स्थानीय लोगों ने कहा कि उन्होंने कई बार नगर पालिका को यह बात लिखित में भी दी है और इस इलाके में पब्लिक टायलेट बनाने के लिए इलाके के लोगों ने कई बार सामूहिक रूप से अर्जी दी है लेकिन इसके बावजूद यहाँ कोई टायलेट नहीं बनाया गया।

 

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें