मुस्लिम मज़दूर के हत्यारे को भेजे 3 लाख रुपये, पुलिस ने एकाउंट किया फ्रीज

नई दिल्ली। राजस्थान के उदयपुर जिले में राजसमंद में एक मुस्लिम मजदूर की कैमरे के सामने हत्या करने वाले शम्भू लाल रैंगर के कारनामे को कुछ लोग प्रोत्साहित कर रहे हैं। ऐसे लोग न सिर्फ सोशल मीडिया पर हत्यारे शम्भूलाल को हिन्दू गौरव बता कर पेश कर रहे हैं बल्कि क़त्ल को उसकी बहादुरी साबित करने की कोशिश कर रहे हैं।

कटटर मानसिकता वाले लोगों ने शम्भू लाल की पत्नी द्वारा खुलवाए गए बैंक खाते में भी करीब तीन लाख रुपये जमा कराये थे। पुलिस को इसकी जानकारी मिलने के बाद इस एकाउंट को फ्रीज करा दिया गया है।

पुलिस के अनुसार शंभूलाल के समर्थन में 516 लोगों ने भारी मात्रा में रुपये दान किये और जिस अकाउंट में यह रुपये जमा किये जा रहे थे वह शंभूलाल की पत्नी सीता के नाम से चलाया जा रहा था। पुलिस ने दो व्यापारियों को भी गिरफ्तार किया था जिन्होंने अपनी डोनेशन स्लिप को सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था।

उदयपुर रेंज के आईजी आनंद श्रीवास्तव ने कहा कि हमने रेगर के समर्थन में चल रहे बैंक अकाउंट को फ्रीज कर दिया है, इस अकाउंट में तीन लाख रुपये जमा किये गए थे। हम जांच करेंगे कि इस अकाउंट में किन लोगों ने पैसा जमा किया था।

बता दें कि शंभूलाल रेगर को पश्चिम बंगाल के एक मुस्लिम अधेड़ की हत्या और उसे जलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। शंभूलाल ने इस घटना का वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर फैलाया था।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें