मुजफ्फरपुर काण्ड के मास्टर माइंड ब्रजेश ठाकुर पर महिलाओं ने पोती कालिख

पटना। बिहार में मुज़फ़्फ़रपुर बालिकागृह के मास्टर माइंड ब्रजेश ठाकुर की आज कोर्ट में पेशी के दौरान गुस्साई महिलाओं ने न सिर्फ आरोपी ब्रजेश ठाकुर पर स्याही फेंकी बल्कि उस पर कालिख भी पोत डाली।

इससे पहले पुलिस ने कड़ी व्यवस्था के बीच ब्रजेश ठाकुर को कोर्ट में पेश किया। इस दौरान कोर्ट परिसर में मौजूद महिलाओं ने ब्रजेश ठाकुर के ऊपर काली स्याही उड़ेल दी।

महिलाओं का गुस्सा यहीं शांत नहीं हुआ तो उन्होंने ब्रजेश ठाकुर पर कालिख भी पोत डाली। इस दौरान पुलिस ने आरोपी ब्रजेश ठाकुर को महिलाओं से बचाने की कोशिश की लेकिन महिलाओं की तादाद के बीच पुलिस ब्रजेश ठाकुर को महिलाओं के गुस्से से नहीं बचा सकी।

इससे पहले ब्रजेश ठाकुर ने अपने ऊपर लगे आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताया। उसने यह भी दलील दी कि वह जल्द ही मुज़फ़्फ़रपुर से चुनाव लड़ने वाला था इसलिए उसे राजनैतिक साजिश के तहत फंसाया गया है।

ब्रजेश ने आरोप लगाया कि मेरे समाचार पत्र के कारण उनका कारोबार प्रभावित हो रहा है, यही कारण है कि यह सब हो रहा है। साथ ही ब्रजेश ठाकुर ने मामले में सफाई देते हुए कहा कि मैं कांग्रेस में शामिल होने की सोच रहा था और यह सब अंतिम चरण में चल रहा था कि मैं मुजफ्फरपुर से चुनाव लड़ता. साथ ही उसने कहा कि पीड़ित लड़कियों में से किसी ने मेरा नाम नहीं लिया है. आप स्वयं इसका परीक्षण कर सकते हैं।

गौरतलब है कि राज्य सरकार की सिफारिश और केंद्र सरकार की मंजूरी के बाद सीबीआई ने इस मामले में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस मामले में सीबीआई ने ‘बालिका गृह’ के अधिकारियों और कर्मचारियों को आरोपित किया है।

मुंबई की टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस की ‘कोशिश’ टीम ने करीब 100 पेज की सोशल ऑडिट रिपोर्ट को अप्रैल में ही बिहार सरकार, पटना और जिला प्रशासन को भेजा। इसके बाद मामले में ब्रजेश ठाकुर, बालिका गृह की अधीक्षिका इंदू कुमारी समेत 11 लोगों को जेल भेजा जा चुका है। एक अन्य फरार दिलीप कुमार वर्मा की गिरफ्तारी के लिए इश्तेहार दिये गये हैं और कुर्की की कार्रवाई की जा रही है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *