मुगलसराय में बोले अमित शाह: सपा बसपा कांग्रेस मिल जाएँ फिर भी यूपी में जीतेंगे ज़्यादा सीटें

मुगलसराय। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज दावा किया कि यदि 2019 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ें फिर भी बीजेपी ज़्यादा सीटें जीतेगी।

अमित शाह ने कहा कि बुआ भतीजा और कांग्रेस मिलकर लड़ेंगे तब भी हमारी सीटें 72 से 73-74 हो जाएँगी। बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीटों में से सर्वाधिक 72 सीटें जीती थीं।

उन्होंने कहा कि 2019 में दिल्ली के चुनाव का रास्ता यूपी से होकर जाता है और हम यूपी जीतेंगे। अमित शाह ने कहा, ‘मुगलसराय वो जगह है जहां पंडित दीन दयाल उपाध्याय की हत्या हुई थी। वो हमारे प्रेरणास्रोत हैं।

उन्होंने दुनिया को एकत्म मानववाद की अवधारणा दी। हम लोग 10 एकड़ भूमि में दीन दयाल उपाध्याय की विशाल प्रतिमा और स्मारक बनाने जा रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘बुआ-भतीजा को जब भी देखता हूं तो लगता है वो हमसे जले-भुने बैठे हैं। उसकी वजह भी है. उनके 15 साल के शासन में गुंडों, माफिया और दलालों का राज था लेकिन योगी जी के राज में गुंडे माफिया राज्य छोड़कर भाग रहे हैं।’

वहीँ एनआरसी के मुद्दे पर अमित शाह ने कहा कि हम सुप्रीमकोर्ट के निर्देशों के अनुसार कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूँ कि अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों को देश से बाहर निकाला जाना चाहिए कि नहीं ? उन्होंने कहा कि विपक्ष बांग्लादेशी घुसपैठियों के मुद्दे पर अपना रुख साफ़ करे।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर दीनदयाल उपध्याय जंक्शन कर दिया गया है। मुगलसराय का नाम बदले जाने के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया था। इस कार्यक्रम में बीजेपी अध्यक्ष अमितशाह, उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ सहित बीजेपी के कई कद्दावर नेता और रेल मंत्री पीयूष गोयल शामिल हुए थे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें