मायावती ने माँगा ‘अल्पसंख़्यको के लिए आर्थिक आधार पर आरक्षण’

नई दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती ने मांग की है कि आर्थिक रूप से पिछड़े अल्पसंख़्यको को भी आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए। अल्पसंख़्यको के लिए आर्थिक आधार पर आरक्षण मिलने की वकालत करते हुए मायावती ने कहा कि गरीब मुसलमानो को भी आरक्षण मिलना चाहिए।

मायावती ने कहा कि यदि केंद्र सरकार उच्च जाति के गरीब लोगों को संविधान में संशोधन के जरिए आरक्षण देने के लिए कोई कदम उठाती है तो बीएसपी इसका सबसे पहले समर्थन करेगी।

उन्होंने कहा कि मुस्लिम व अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों में काफी गरीबी है। ऐसे में अगर केंद्र सरकार उच्च जाति के लिए कोई कदम उठाती है तो मुस्लिमों व दूसरे धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए भी आरक्षण की व्यवस्था की जानी चाहिए।

इससे पहले बसपा सुप्रीमो ने एससी/ एसटी विधेयक में संशोधन का स्वागत करते हुए कहा कि दलितों ने जो भारत बंद बुलाया था, यह उसका असर है। उन्होंने कहा कि इस विधेयक में अनावश्यक बदलाव के चलते दलितों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी।

केंद्र सरकार में शामिल दलित नेताओं की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि जब 2 अप्रैल को आंदोलन किया गया था तो केंद्र सरकार के सभी दलित व आदिवासी मंत्री चुप्पी साधे हुए थे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें