उत्तर प्रदेश

मायावती को योगी का चेलेंज स्वीकार, कहा ‘मेयर की सभी सीटों पर बैलेट पेपर से करा लें मतदान ‘

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उस बयान पर पलटवार किया है जिसमे उन्होंने कहा था कि मायावती अपने दो मेरो से इस्तीफे दिलवा दें, फिर से वैलेट पेपर से चुनाव करा देंगे। योगी के बयान पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को बीजेपी को बैलेट पेपर पर फिर से निकाय चुनाव कराने की चुनौती दी है।

मायावती ने कहा कि बीजेपी की जीत में ईवीएम की भूमिका अगर नहीं है तो बसपा की जीती हुई अलीगढ़ और मेरठ सहित सभी 16 मेयर की सीटों पर बैलेट पेपर पर मतदान करा लें। उन्हें अपनी पार्टी की असलियत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कथित विजन का भी पता चल जाएगा। प्रदेश की जनता उन्हें नगर पालिका और नगर पंचायत की तरह ही मेयर के पदों पर भी बुरी तरह से हराएगी।

मायावती ने सीएम योगी पर हमला बोलते हुए कहा कि उनकी ये टिप्पणी कि ईवीएम से चुनाव में भरोसा नहीं है तो बीएसपी के मेयर इस्तीफा दें। वहां बैलेट पेपर पर दोबारा चुनाव कराया जाएगा। ये बयान चोरी और ऊपर से सीनाजोरी की बदतर मिसाल है।

मायावती ने कहा कि बीजेपी ने ईवीएम के माध्यम से चुनाव में धांधली कर लोकसभा और विधानसभा में जीत हासिल की. मेयर चुनाव में भी यही धांधली की गई। अलीगढ़ और मेरठ में बीएसपी जीती क्योंकि वहां जबर्दस्त जन उबाल था और ज्यादा गड़बड़ी करने पर चोरी साफ तौर पर पकड़े जाने की आशंका थी।

मायावती ने कहा कि नगर पालिका और नगर पंचायत चुनाव बैलेट पर हुए तो यहां बीजेपी कैसे पिछड़ गई। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकारी मशीनरी का जबर्दस्त दुरुपयोग करके बीएसपी प्रत्याशी को सहारनपुर, आगरा व झांसी में हराया गया है। वहीं लखनऊ में भी चुनाव विभिन्न कारणों से स्वतंत्र और निष्पक्ष नहीं रहा है। यह बात खुद राज्य चुनाव आयोग भी मानता है, जिसकी जांच भी कराई जा रही है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश निकाय चुनावो में बीजेपी को 14 और बसपा को 02 सीटों पर विजय मिली थी। वहीँ कांग्रेस और सपा अपना खाता भी नहीं खोल सके। चुनाव परिणामो के बाद बसपा सुप्रीमो तथा सपा सुप्रीमो ने ईवीएम पर सवाल उठाते हुए जहाँ जहाँ वैलेट पेपर पेपर से चुनाव हुए वहां बीजेपी की पराजय को लेकर सवाल उठाये थे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Facebook

Copyright © 2017 Lokbharat.in, Managed by Live Media Network

To Top