मायावती के बयान से जागी कांग्रेस: कहा ‘कपड़े में सलवटें तो बैठकर दूर कर लेंगे’

नई दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा आज गठबंधन न होने का ठीकरा कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर फोड़ने के बाद लगता है जैसे कांग्रेस नींद से जाग गयी है। कांग्रेस ने मायवती के आरोपों पर बेहद सधी हुई प्रतिक्रिया दी है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मायावती ने अपनी भावना व्यक्त की है, जिसका हम आदर करते हैं। उन्होंने कहा कि मायावती ने राहुल गांधी, सोनिया गांधी और कांग्रेस में अपना पूरा विश्वास जताया है। जिसका हम सम्मान करते हैं।

उन्होंने कहा कि राहुल, सोनिया और मायावती तीनों में सद्भाव है तो इनमें कोई व्यवधान नहीं डाल सकता है। कोई भी चौथा व्यक्ति बीच में नहीं आ सकता है। हालांकि सुरजेवाला ने कहा कि अगर कपड़े में सलवटें हैं तो हम सद्भाव और प्रेम के साथ उन्हें बैठकर दूर कर लेंगे।

वहीं मायावती के बयान के बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि वह बसपा सुप्रीमो मायावती का बहुत सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा कि वह हमेशा गठबंधन के पक्ष में रहे हैं। पता नहीं मायावती जी ऐसा क्यूं बोल रही हैं। उन्होंने कहा कि मैं हमेशा पीएम मोदी, अमित शाह, भाजपा और आरएसएस की आलोचना करता हूं।

दिग्विजय सिंह ने कहा कि वह हमेशा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को फॉलो करते हैं। वह छत्तीसगढ़ में भी बसपा से गठबंधन के पक्ष में थे। उन्होंने कहा कि वह मध्य प्रदेश में भी बसपा से गठबंधन चाहते हैं।

गौरतलब है कि बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह पर बीजेपी का एजेंट होने का आरोप लगाते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह जैसे कांग्रेस नेता बसपा कांग्रेस का गठबंधन नहीं होने दे रहे हालाँकि सोनिया गांधी और राहुल गांधी बसपा से गठबंधन के इच्छुक हैं। मायावती ने कांग्रेस को अहंकार में डूबा हुआ भी करार दिया।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें