महाराष्ट्र: पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे लगाने वाला रेलवे टीसी उपेंद्र बहादुर गिरफ्तार

मुंबई ब्यूरो। पुलवामा हमले के बाद जहाँ देशभर में पाकिस्तान विरोधी प्रदर्शन हो रहे हैं वहीँ महाराष्ट्र में रेलवे विभाग के जूनियर टीसी ने को पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने के आरोप में एक जूनियर टीसी (टिकिट कलेक्टर) को नौकरी से निलंबित किये जाने के साथ ही गिरफ्तार कर लिया गया है।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे के जूनियर टिकिट कलेक्टर कुमार उपेंद्र बहादुर सिंह ने ने पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि दिए जाने के कार्यक्रम में कथित रूप से पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की।

इस घटना के बाद उपेंद्र बहादुर सिंह को नौकरी से निलबित कर दिया गया लेकिन कार्यक्रम संपन्न होने के बाद पुणे ग्रामीण पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उपेंद्र को आईपीसी की धारा 153(B) के तहत गिरफ्तार किया है। पुलिस अभी उससे पूछताछ कर रही है।

गौरतलब है कि गुरूवार को जम्मू कश्मीर के पुलवामा इलाके में सीआरपीएफ जवानो को लेकर जा रहे काफिले पर हुए आतंकी हमले में 41 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना के बाद जहाँ देश के लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और देश में कई जगह पाकिस्तान विरोधी प्रदर्शन हुए। वहीँ दिल्ली में सर्वदलीय बैठक में पुलवामा की घटना के लिए पाकिस्तान के खिलाफ निंदा प्रस्ताव भी पारित हुआ।

पुलवामा की घटना के बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा भी वापस ले लिया है। गौरतलब है कि मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा व्यापार में सहयोगी राष्ट्रों को दिया जाता है। इसमें एमएफएन राष्ट्र को भरोसा दिलाया जाता है कि उसके साथ भेदभाव रहित व्यापार किया जाएगा।

डब्ल्यूटीओ के नियमों के अनुसार भी ऐसे दो देश एक-दूसरे से किसी भी तरह का भेदभाव नहीं कर सकते। एमएफएन का दर्जा मिल जाने पर दर्जा प्राप्त देश को इस बात का आश्वासन रहता है कि उसे कारोबार में नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
loading...