ममता की फ़र्ज़ी तस्वीर शेयर करने वाली प्रियंका बोली ‘माफ़ी नहीं मांगुंगी’

कोलकाता। पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की फोटो शॉप से बनी फ़र्ज़ी तस्वीर शेयर करने के आरोप में जेल की हवा खा चुकी बीजेपी यूथ विंग की नेता प्रियंका शर्मा ने जेल से रिहा होने के बाद कहा कि वह माफ़ी नहीं मांगेगी बल्कि केस लड़ेगी।

इससे पहले कल सुप्रीमकोर्ट ने प्रियंका शर्मा को जेल से रिहा होने के बाद लिखित में माफ़ी मांगने की शर्त पर रिहाई के आदेश जारी किये थे। 10 मई को हुई गिरफ्तारी के बाद प्रियंका को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था। ऐसे में उनके परिवार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया।

प्रियंका ने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के मौलिक अधिकार का हवाला देते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल पुलिस निरंकुश और तानाशाह तरीके से काम कर रही है। एक साधारण मजाक के लिए किसी को जेल में भेजा जाना गलत है।

जेल से रिहाई के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रियंका शर्मा ने कहा है, ‘’मुझे सुप्रीम कोर्ट ने कल ही जमानत दे दी थी, लेकिन मुझे आदेश के 10 घंटे बाद भी रिहा नहीं किया गया।’’ प्रियंका ने आरोप लगाया कि इस दौरान मुझे मेरे परिवार और मेरे वकील से भी नहीं मिलने दिया गया। वह मुझे बार-बार माफी मांगने को कह रहे थे।’’

प्रियंका शर्मा ने कहा कि वह माफ़ी नहीं मांगेगी बल्कि केस लड़ेगी। उन्होंने कहा कि उन्होंने जो तस्वीर शेयर की वह विचारो की अभिव्यक्ति का हिस्सा है और इसे दबाया नहीं जा सकता।

रिहाई में हुई देरी:

प्रियंका शर्मा की रिहाई में देरी के लिए आज सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को फटकार लगाई है। कल कोर्ट ने प्रियंका की तुरंत रिहाई का आदेश दिया था। बावजूद इसके प्रियंका की रिहाई में देरी की गई।

इस पर नाराजगी जताते हुए दो जजों की बेंच की अध्यक्षता कर रहीं जस्टिस इंदिरा बनर्जी ने कहा, “हमारा आदेश आने के आधे घंटे के भीतर रिहाई हो जानी चाहिए थी अगर ऐसा अब तक नहीं हुआ है तो इसके गंभीर परिणाम होंगे।”

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें