मध्य प्रदेश में स्कूली बच्चे पढ़ रहे ‘1962 में भारत ने चीन को हराया था’

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश शिक्षा बोर्ड की किताब में बच्चो को पढ़ाया जा रहा है कि 1962 में भारत चीन के बीच हुए युद्ध में भारत ने चीन को हरा दिया था। कक्षा 8 की संस्कृत की किताब “सुकृतिका” में एक पाठ में लिखा है कि “1962 के Sino-India युद्ध में भारत ने चीन के खिलाफ जीत हासिल की थी।”

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक किताब में लिखा है, “जवाहरलाल नेहरू के कार्यकाल के समय चीन ने भारत के खिलाफ साल 1962 में युद्ध छेड़ दिया था। नेहरू के प्रयासों से भारत ने चीन को हरा दिया था।”

इस पुस्तक का प्रकाशन लखनऊ स्थित कृतिका प्रकाशन द्वारा किया गया है। पुस्तक को पांच लेखकों द्वारा लिखा गया है, जिनमें से दो, प्रोफेसर उमेश प्रसाद और सोमदत्त शुक्ला की मृत्यु हो चुकी है। इसके अलावा इस पुस्तक के लेखकों में मधु सिंह, ललिता सेंगर और निशा गुप्ता के नाम भी शामिल हैं।

हालाँकि यह पहला अवसर नहीं है जब किताबो में इतिहास के नाम पर बड़ी हेरफेर देखने को मिली है। खबर के मुताबिक इस मामले को लेकर टाइम्स ऑफ इंडिया ने प्रकाशक समुह से बात करने की कोशिश की लेकिन उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं आया।

अभी हाल ही में महाराष्ट्र में भी इतिहास की किताबो से मुग़ल बादशाहो और उनके द्वारा बनाई गयी ऐतिहासिक इमारतों से जुड़े चेप्टर हटा दिए जाने का मामला प्रकाश में आया है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें