मध्य प्रदेश: चुनाव से पहले बीजेपी को झटका, शिवराज के सगे साले ने थामा कांग्रेस का हाथ

भोपाल ब्यूरो। मध्य प्रदेश में एन चुनाव के मौके पर बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के साले संजय सिंह ने बीजेपी छोड़कर कांग्रेस का हाथ थाम लिया है।

कांग्रेस में शामिल होते ही संजय सिंह ने शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मध्यप्रदेश को ‘राज’ की नहीं ‘नाथ’ की जरूरत है। सूबे को कमलनाथ की जरूरत है। कमलनाथ ने मुझे गले लगाया है। मैं उन्होंने धन्यवाद देता हूं। संजय सिंह ने भाजपा पर वंशवाद का आरोप लगाया है।

संजय सिंह ने कमलनाथ के गृहक्षेत्र छिंदवाड़ा में विकास को एक मिसाल बताया और कहा कि मध्यप्रदेश कमलनाथ के नाम से जाना जाएगा। वहीँ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा,’भाजपा का पर्दाफाश हो रहा है। दुखी होने के बाद संजय सिंह कांग्रेस में शामिल हुए हैं। वहीं, कमलनाथ ने दो घंटे के भीतर कांग्रेस की पहली सूची आने का ऐलान किया’।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में 230 विधानसभाओं के लिए 28 नवंबर को मतदान होना है। यहाँ राज्य में पिछले पंद्रह सालो से बीजेपी की सरकार है लेकिन इस बार उसे सरकार विरोधी लहर का सामना करना पड़ रहा है।

इस वर्ष के अंत तक हो रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनावो को 2019 के आम चुनावो का सेमीफाइनल माना जा रहा है। इन चुनावो में जिस पार्टी का प्रदर्शन अच्छा रहेगा उसे 2019 के आम चुनावो में फायदा मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

बीजेपी में टिकिट बंटवारे को लेकर अंतर्कलह पैदा हो गया है। कई विधानसभा क्षेत्रो में बीजेपी उम्मीदवारों का विरोध किया जा रहा है। वहीँ सिंधी समाज ने बीजेपी की यह कहकर आलोचना की है कि राज्य में एक भी सिंधी व्यक्ति को पार्टी का उम्मीदवार नहीं बनाया गया है। इसलिए बीजेपी सिंधी समुदाय से वोट मिलने की उम्मीद न रखे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें
Loading...